ताज़ा खबर
 

पीएनबी घोटाला: लालू का तंज- ललित मोदी, माल्या और नीरव मोदी को नेहरू ने भगा दिया, है ना!

अरबपति हीरा व्यवसायी नीरव मोदी ने गलत डॉक्यूमेंट के आधार पर पंजाब नेशनल बैंक समेत अन्य बैंको को करोड़ों रुपये की चपत लगाई है। बैंक घोटाला करने के बाद नीरव मोदी पत्नी और भाई समेत देश से भाग गया है।
लालू प्रसाद यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ किया ट्वीट.

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में हुए 11,000 करोड़ रुपये के घोटाले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है और पूछा है कि देश के चौकीदार कहां हैं? लालू यादव ने हर बात पर देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू का नाम घसीटने पर पीएम मोदी पर तंज कसते हुए पूछा है कि क्या उन्होंने ही ललित मोदी, नीरव मोदी और विजय माल्या को घोटाला करने के बाद देश से भगा दिया? लालू ने सेशल मीडिया पर ट्वीट किया है, “नेहरु ने ललित मोदी, विजय माल्या और अब नीरव मोदी को लाखों करोड़ों का घोटाला करने के बाद देश से भगा दिया। है ना? कहाँ है चौकीदार? #PNBScam” बता दें कि अरबपति हीरा व्यवसायी नीरव मोदी ने गलत डॉक्यूमेंट के आधार पर पंजाब नेशनल बैंक समेत अन्य बैंको को करोड़ों रुपये की चपत लगाई है। बैंक घोटाला करने के बाद नीरव मोदी पत्नी और भाई समेत देश से भाग गया है।

लालू की टिप्पणी पर कई लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। एक यूजर ने लिखा है, “जेल का चोर बोल रहा है,प्रधानमंत्री बुरा है।” दूसरे यूजर ने लिखा है, “ये तो वही बात हुई, रावण भगवान राम मर्यादा का पाठ पढ़ा रहा है।” एक अन्य यूजर ने लालू यादव की टिप्पणी के समर्थन में लिखा है, “लड़ना तो था बेरोजगारी से पर साहेब लड़ रहे हैं नेहरू जी से, लड़ना तो था महंगाई से पर साहेब लड़ रहे हैं राजीव गांधी जी से, लड़ना तो था भ्र्ष्टाचार से पर साहेब लड़ रहे हैं इंदिरा गांधी जी से, लड़ना तो था काले धन से लेकिन साहेब लड़ रहे हैं मनमोहन सिंह जी से और उधर मोदी भाग गया।”

PNB ने बुधवार (14 फरवरी) को 11,000 करोड़ रुपये के फर्जीवाड़े की जानकारी स्ट़क एक्सचेंज को दी थी। यह घोटाला बैंक के एमसीबी ब्रैडी हाउस (मुंबई) से जुड़ा है। बैंक कर्मचारियों और अधिकारियों ने फर्जी दस्‍तावेज पर नीरव मोदी के पक्ष में हजारों करोड़ रुपये की लोन गारंटी जारी कर दी थी। फर्जीवाड़े में शामिल एक अधिकारी तो रिटायर भी हो चुके हैं। सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आरबीआई के आंकड़ों का हवाला देते हुए हाल में ही संसद में बैंकिंग सेक्‍टर में धोखाधड़ी के मामलों की जानकारी दी थी। उन्‍होंने 21 दिसंबर, 2017 तक के डाटा के आधार पर बैंकों में ऐसे 25,600 से ज्‍यादा मामले सामने आने की बात कही थी।