scorecardresearch

पीएम मोदी ने कहा – तरक्की के लिए नारी शक्ति का सम्मान जरूरी, दीदी ओ दीदी वाला बयान याद दिलाने लगे लोग

प्रधानमंत्री ने कहा कि कभी-कभी हम महिलाओं का अपमान कर देते हैं, हमें ऐसा नहीं करना चाहिए।

पीएम मोदी ने कहा – तरक्की के लिए नारी शक्ति का सम्मान जरूरी, दीदी ओ दीदी वाला बयान याद दिलाने लगे लोग
पीएम नरेंद्र मोदी (फोटो सोर्स – पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि महिलाओं का अनादर नहीं होना चाहिए। महिलाएं देश के विकास के लिए महत्वपूर्ण स्तंभ हैं। भारत की तरक्की के लिए महिलाओं का सम्मान जरूरी है। प्रधानमंत्री के इस बयान पर सोशल मीडिया पर लोग कई तरह के रिएक्शन देते नजर आ रहे हैं।

पीएम मोदी का बयान

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत है रानी लक्ष्मीबाई और बेगम हजरत महल सहित भारत की महिला सेनानियों को याद करते हुए कहा कि राष्ट्र उनके लिए आभारी है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोई भी राष्ट्र जिसने प्रगति है, उसके नागरिकों में अनुशासन समाया हुआ है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हमारे आचरण में बदलाव आ गया है, हम कई बार महिलाओं का अपमान करते हैं। क्या हम अपने व्यवहार में इससे छुटकारा पाने का संकल्प ले सकते हैं।

लोगों के रिएक्शन

प्रणव नाम के ट्विटर यूजर ने बंगाल रैली के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी का एक वीडियो शेयर करते हुए तंज कसा। जिसमें वो दीदी ओ दीदी कहते नजर आ रहे हैं। सचिन सागर नाम के एक ट्विटर यूजर द्वारा लिखा गया – नारी का सम्मान, दीदी ओ दीदी। अजय चौधरी नाम के एक यूजर कमेंट करते हैं कि भाई आडंबर की भी सीमा होती है। शादाब नाम के ट्विटर यूजर ने कमेंट किया कि महिलाओं का सम्मान होना ही चाहिए क्योंकि नारी को मां का दर्जा दिया गया है और मां दुनिया की सबसे बड़ी योद्धा होती है।

अभिनव त्रिपाठी नाम के एक यूजर ने लिखा, ‘शर्म आती है जब लोग नारी का सम्मान करते हैं और गूगल सर्च करने पर भाजपाइयों के अभद्र से अभद्र बयान देखने को मिलते हैं।’ अभिषेक नाम के एक यूजर कमेंट करते हैं कि क्या बीजेपी की आईटी सेल इस बात को मानेगी? रत्नेश शुक्ला नाम के ट्विटर यूजर ने पूछा कि दीदी ओ दीदी, 50 करोड़ की गर्लफ्रेंड और कांग्रेस की विधवा… इस पर कभी प्रधानमंत्री जी माफी मांगेंगे?

पीएम ने बंगाल में दिया था ऐसा बयान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल में चल रहे विधानसभा चुनाव की एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। जहां उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का नाम लिए बिना हर दूसरी तीसरी लाइन में दीदी…दीदी…ओ दीदी… अरे दीदी कहा था। उनके इस बयान पर जब टीएमसी नेताओं की ओर से सवाल उठाया गया तो बीजेपी ने जवाब में कहा था कि भला दीदी बोलने में क्या बुराई है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट