scorecardresearch

लाल किले के भाषण में पीएम मोदी ने किया सावरकर का जिक्र, लोग गोडसे का नाम लेकर मारने लगे ताना

पीएम मोदी ने कहा, ‘हम सभी कृतज्ञ है पूज्य बापू, नेताजी बोस, बाबा साहेब अंबेडकर के, वीर सावरकर के, जिनका कर्तव्य पथ पर चलकर जीवन को खपा दिया।

लाल किले के भाषण में पीएम मोदी ने किया सावरकर का जिक्र, लोग गोडसे का नाम लेकर मारने लगे ताना
लाल किला पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो सोर्स-सोशल मीडिया)

भारत 15 अगस्त को देश की आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर देशभर में ख़ुशी मनाई जा रही है। लाल किले से पीएम मोदी ने देश को संबोधित किया। करीब 83 मिनट तक पीएम ने लाल किले के प्राचीर से भाषण दिया। अपने भाषण में पीएम मोदी ने कहा कि ये देश का सौभाग्य रहा है कि ‘आजादी की जंग के कई रूप रहे हैं। उसमें एक रूप वो भी था जिसमें नारायण गुरु हो, स्वामी विवेकानंद हों, महर्षि अरविंदो हों, गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर हों, ऐसे अनेक महापुरूष हिंदुस्तान के हर कोने में भारत की चेतना को जगाते रहे।’

पीएम मोदी ने वीर सावरकार का जिक्र

अपने भाषण में पीएम मोदी ने कहा, ‘हम सभी कृतज्ञ है पूज्य बापू, नेताजी बोस, बाबा साहेब अंबेडकर के, वीर सावरकर के, जिनका कर्तव्य पथ पर चलकर जीवन को खपा दिया। कर्तव्य पथ ही उनका जीवन पथ रहा है। पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘देश कृतज्ञ है मंगल पांडे, तात्या टोपे, भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, चंद्रशेखर आजाद, अशफाक उल्ला खां, राम प्रसाद बिस्मिल ऐसे अनगिनत ऐसे हमारे क्रांति वीरों ने अंग्रेजों की हुकूमत की नींव हिला दी थी।’

लोगों की प्रतिक्रियाएं

पंकज नाम के यूजर ने लिखा कि नाथूराम गोडसे और बोल देते प्रभु , भक्त खुशी से ही मर जाते। अंकित शर्मा ने लिखा कि शर्म है ऐसी मानसिकता पर, जहां पर देश के स्वतंत्रता सेनानियों में सावरकर का नाम लिया जाता है मगर नेहरू जी का नाम नहीं। रितेश सोनकर नाम के यूजर ने लिखा कि सावरकर ने नींव हिला थी, क्यों झूठ बोलते हो ऐसे शुभ अवसर पर, ये कहिए उन्होंने खाई खोदी थी क्रांतिकारियों के लिए।

लखन नाम के यूजर ने लिखा कि गांधी महान, अम्बेडकर महान, भगत सिंह महान पर सावरकर कैसे महान कोई एक देशभक्त कार्य जिसका फीता सावरकर ने काटा हो श्रीमान जी। चांद मंडल नाम के यूजर ने लिखा, ‘एक वर्तमान की प्रधानमंत्री जो देश की पहले प्रधानमंत्री को भूल जाए, उसको आप क्या कहोगे?’

एक यूजर ने लिखा कि मौलाना अबुल कलाम और नेहरू जी का नाम पीएम मोदी ने अपने भाषण में नहीं लिया, ये जानबूझकर किया या भूल गए! योगवीर नाम के यूजर ने लिखा कि सावरकर कब से क्रान्तिकारी हो गये साहब? और वीर भी? दिनेश नाम एक यूजर ने लिखा कि वीर सावरकर ने कब नींव हिलाई थी?

लाल किले से देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘आत्मनिर्भर भारत, ये हर नागरिक का, हर सरकार का, समाज की हर एक इकाई का दायित्व बन जाता है। आत्मनिर्भर भारत, ये सरकारी एजेंडा या सरकारी कार्यक्रम नहीं है, ये समाज का जनआंदोलन है, जिसे हमें आगे बढ़ाना है।’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आजादी की जंग लड़ने वाले नेहरू, राजेंद्र प्रसाद, श्याम प्रसाद मुखर्जी, जयप्रकाश नारायण, राम मनोहर लोहिया, नानाजी देशमुख जैसे अनगिनत ऐसे महापुरुषों को आज नमन करने का अवसर है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट