ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी की फिसली थी जुबान, मोदी ने ली चुटकी- इतनी समझ नहीं, ये आपका भला करेंगे

VIDEO: कुछ दिन पहले राहुल गांधी ने भाषण में कहा था कि इस जवाब का सवाल देना ही पड़ेगा। उनकी इस बात पर पीएम मोदी ने जमकर चुटकी ली है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (बाएं) और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी।

मंंच पर खड़े पीएम मोदी कांग्रेस पार्टी और गांधी परिवार पर सियासी वार करने का कोई मौका हाथ से जाने नहीं देते। ऐसा ही एक उदाहरण गुजरात में सोमवार को जनसभा के दौरान देखने को मिला। गांधी परिवार और कांग्रेस को गुजरात विरोधी बताते बताते नरेंद्र मोदी ने राहुल गांधी पर भी चुटकी ले ली। कुछ दिन पहले गुजरात में एक भाषण के दौरान राहुल गांधी की जबान फिसल गई थी और उन्होंने इस सवाल का जवाब तलाशना होगा की जगह जवाब का सवाल तलाशना होगा बोल दिया था। राहुल गांधी के इसी भाषण पर चुटकी लेते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कोई सवाल हो तो उसके जवाब मैं दे भी सकता हूं लेकिन जवाब का सवाल कैसे दूं ये ऐसे नेता है जवाब का सवाल मानते हैं। जिनको ये समझ नहीं कि पहले सवाल आता है या जवाब आता है ये आपका भला करेंगे क्या।

इसके अलावा अपने भाषण में बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि  भाजपा के लिए चुनाव ‘विकासवाद की जंग है, कांग्रेस के लिए वंशवाद की जंग है और मुझे विश्वास है कि गुजरात में विकासवाद जीतने वाला है, वंशवाद हारने वाला है।  पाटीदार आंदोलन के बाद पटेल समुदाय के एक वर्ग की नाराजगी को समझते हुए सोमवार को प्रधानमंत्री ने कहा कि जब जब गुजरात में चुनाव आता है, उनको (कांग्रेस) जरा ज्यादा बुखार आता है, तकलीफ ज्यादा बढ़ जाती है। इस पार्टी और परिवार को गुजरात आंखों में चुभता रहा है। सरदार बल्लभ भाई पटेल के साथ इस पार्टी ने, इस परिवार ने किस तरह का व्यवहार किया, इतिहास इसका गवाह है। मैं इसे दोहरना नहीं चाहता। सरदार पटेल की पुत्री मणिबेन और पूर्व प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई के साथ किस प्रकार का व्यवहार इस पार्टी ने किया, यह सभी के सामने है। इनको हर प्रकार से नेस्तनाबूद करने का काम किया। गुजरात उनको पसंद ही नहीं था। उसने बाबू भाई पटेल के नेतृत्व वाली सरकार को तोड़ने का काम किया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App