ताज़ा खबर
 

मोदी की हवाई यात्रा पर हार्दिक पटेल का तंज, पूछा- किसान कब डाल सकेंगे प्लेन से कीटनाशक

हार्दिक ने लिखा, 'विकास तो लंका में भी हुआ था लंका पूरी सोने की थी, लेकिन अहंकार और घमंड की वजह से पूरी लंका जल गई थी।'

अहमदाबाद-साबरमती नदी में सी प्लेन पर सवार होने के बाद लोगों का अभिवादन करते पीएम मोदी (फोटो-एपी)

गुजरात विधानसभा के लिए प्रचार का शोर मंगलवार (12 दिसंबर) को थम गया। इस दिन गुजरात के लोगों ने अपने आसमान पर सीप्लेन का दीदार किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात चुनाव प्रचार के आखिरी दिन साबरमती रिवरफ्रंट से अंबाजी मंदिर के पास धरोई डैम के लिए एक रैली में जाने के लिए सी प्लेन से उड़ान भरी। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कहा कि यह ‘देश में सीप्लेन द्वारा अब तक की पहली उड़ान है।’ पीएम के इस सीप्लेन सवारी पर पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने तंज कसा है। हार्दिक पटेल ने कहा कि दूसरे देशों में सीप्लेन पहले से पहले से है आज गुजरात में आया ये अच्छी बात है, लेकिन सवाल यह है कि किसान अपने खेतों में कीटनाशक डालने के लिए सी प्लेन का इस्तेमाल कब कर सकेंगे। हार्दिक पटेल ने ट्वीट किया, ‘ sea plane दूसरे देशों में बहुत समय से हैं।आज हमारे गुजरात में आया हैं काफ़ी ख़ुश हूँ। लेकिन चुनाव के अगले दिन ही आया वो बढ़िया बात हैं। किसान कीटनाशक दवाई भी प्लेन से डाल सके एसा कुछ कीजिए।’

HOT DEALS
  • BRANDSDADDY BD MAGIC Plus 16 GB (Black)
    ₹ 16199 MRP ₹ 16999 -5%
    ₹1620 Cashback
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Gunmetal Grey
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹0 Cashback

हार्दिक पटेल एक और ट्वीट कर बीजेपी पर हमला बोला है, हार्दिक ने लिखा, ‘विकास तो लंका में भी हुआ था लंका पूरी सोने की थी, लेकिन अहंकार और घमंड की वजह से पूरी लंका जल गई थी।’ प्रधानमंत्री द्वारा सीप्लेन की उड़ान लेने का कारण पूछे जाने पर भाजपा प्रवक्ता जगदीश भावसर ने कहा, “प्रधानमंत्री के इस कदम को आप हमारे अन्य कार्यक्रमों जैसे रो-रो फेरी सर्विस या बुलेट ट्रेन परियोजना या बस रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (बीआरटएस) के तौर पर ले सकते हैं। आप इस कार्यक्रम को भाजपा के कार्यक्रमों में से एक के तौर पर ले सकते हैं।” गुजरात में गुरुवार (14 दिसंबर) को 93 विधानसभा सीटों के लिए होने वाले दूसरे चरण के चुनाव में करीब दो करोड़ मतदाता 1,828 उम्मीदवारों की किस्मत तय करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App