ताज़ा खबर
 

फारूख अब्दुल्ला ने PoK को बताया पाकिस्तान का तो भड़के परेश रावल, कहा- बांटिए, बाप की जागीर जो है

रावल के अलावा भारतीय सेना के पूर्व विशेष बल अधिकारी मेजर सुरेन्द्र पूनिया ने भी फारूख अब्दुल्ला के बयान पर आपत्ती जताई है।

फारूख अब्दुल्ला ने PoK को बताया पाकिस्तान का तो भड़के परेश रावल। (File Photo)

बॉलीवुड अभिनेता और लोक सभा सांसद परेश रावल ने जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला पर पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) को लेकर दिए गए उनके बयान को लेकर निशाना साधा है। उन्होंने अब्दुल्ला के बयान पर तीखे तेवर अपनाते हुए तंज कसा है। परेश रावल ने ट्वीट कर कहा, ‘पीओके पाकिस्तान का है! हां, हां बांटिए बांटिए, अपने बाप की जागीर जो है!’ रावल के इस ट्वीट पर कई लोगों ने अपनी सहमति जताई है। सोशल मीडिया के एक धड़े ने उनके इस बयान को समर्थन दिया है।

रावल के अलावा भारतीय सेना के पूर्व विशेष बल अधिकारी मेजर सुरेन्द्र पूनिया ने भी फारूख अब्दुल्ला के बयान पर आपत्ती जताई है। उन्होंने अब्दुल्ला को सासंद के पद से तुरंत बर्खास्त करने की बात कही। मेजर ने ट्वीट कर कहा, ‘देशद्रोहियों के लिए गर्व का दिन। फारूख अब्दुल्ला पीओके को पाकिस्तान का बताते हैं, लेकिन साथ ही वे जम्मू-कश्मीर के लिए पूर्ण स्वायत्तता की बात भी कहते हैं। देश के राष्ट्रपति को इन्हें तुरंत ही बर्खास्त करना चाहिए। गद्दारी और नमक हरामी की इंतहा है यह!’

बता दें कि नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) के प्रेसिडेंट और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने शनिवार को कहा था कि पाक अधिकृत कश्मीर पाकिस्तान का हिस्सा है और उसे कोई नहीं छीन सकता। उन्होंने कहा था, ‘मैं यह कहना चाहता हूं, ना केवल भारत से, बल्कि पूरी दुनिया से कि पीओके पाकिस्तान में आता है और बाकी कश्मीर भारत में आता है। ये नहीं बदलेगा। इसे लेकर जितनी लड़ाई करना चाहते हैं वे लोग उन्हें करने दो, लेकिन ये नहीं बदलेगा।’

वहीं दिग्गज बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर ने अब्दुल्ला के इस बयान का समर्थन किया था। उन्होंने कहा था, ‘फारूक अब्दुल्ला जी सलाम! आपसे पूरी तरह से सहमत हूं। जम्मू-कश्मीर हमारा है और पीओके उनका (पाकिस्तान का)। यहीं एक आखिरी रास्ता है जिससे इस समस्या को सुलझाया जा सकता है। स्वीकार कीजिए इसे।’ यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि परेश रावल ने अब्दुल्ला के बयान का विरोध तो किया है लेकिन ऋषि कपूर द्वारा समर्थन देने पर उन्होंने कोई टिप्पणी अभी तक नहीं की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App