ताज़ा खबर
 

राम रहीम फैसले पर पाकिस्तान मीडिया ने की भारतीय कोर्ट की तारीफ, कहा- हमारे यहां भीड़ के दम पर बनाते हैं फैसला बदलने का दबाव

एंकर का सारा इशारा अपने देश के कट्टरपंथी नेताओं और जमातों की तरफ था।

Author August 30, 2017 10:52 AM
राम रहीम अब तक के बाबाओं से काफी अलग हैं।

रेप केस में दोषी डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के लिए सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने सजा का ऐलान कर चुकी है। उसे दो अलग-अगल मामलों में बीस साल की सजा सुनाई गई है। ये पूरा मसला भारतीय मीडिया में पिछले कुछ दिनों से छाया हुआ था। भारतीय मीडिया के अलावा पाकिस्तानी मीडिया भी इस पूरे केस में बड़ी रुचि दिखा रही है। वहां के अलग अलग चैनल इस केस को अलग अलग तरह से देख रहे हैं, विश्लेषण कर रहे हैं। एक पाकिस्तान चैनल ने राम रहीम को दोषी करार देने और सजा मिलने पर भारतीय न्याय व्यवस्था की जमकर तारीफ की है। एंकर ने बताया कि कैसे एक सैशन कोर्ट ने इतने प्रभावशाली व्यक्ति को सजा दी और उनके समर्थन इस फैसले को मानने के लिए बाध्य हुए। हिंसा के बावजूद जिस तरह भारतीय प्रशासन डिगा नहीं  है उसको लेकर भी एंकर ने तारीफ की है। दरअसल एंकर का सारा इशारा अपने देश के कट्टरपंथी नेताओं और जमातों की तरफ था जिनके खिलाफ अगर कार्ट कभी सख्ती दिखाता भी तो है तो भीड़ और समर्थक दिखा कर कोर्ट पर ही दबाव बनाया जाता है। इस तरह से एंकर अपने देश को आईना दिखा रहा था।

इससे पहले कोर्ट ने राम रहीम को अलग-अलग मामलों में दस-दस साल की सजा सुनाई है। 30 लाख का जुर्माना लगाया है। राम रहीम को कुल बीस साल की सजा दी गई है जो उन्हें लगातार नहीं काटनी होगी।’ बलात्कारी बाबा के वकील एसके नरवाना ने आगे बताया कि राम रहीम को धारा 376 और 506 के तहत ये सजा सुनाई गई है। ये मामला 2002 से जुड़ा है करीब 15 सालों के बाद इस मामले में कोर्ट ने फैसला सुनाया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App