ताज़ा खबर
 

वीडियो: ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी ने लगाए करणी सेना जिंदाबाद के नारे

Padmavati Movie Release: छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर समेत अन्य शहरों में पद्मावत फिल्म का विरोध कर रहे बजरंग दल के 70 कार्यकर्ताओं समेत 100 लोगों को पुलिस ने 25 जनवरी को गिरफ्तार किया। 24 जनवरी को भी रायपुर में करणी सेना के राजपूत नेताओं ने प्रदर्शन किया था।

छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में प्रदर्शनकारियों को करणी सेना जिंदाबाद के नारे लगाता देख पुलिसकर्मी ने कहा- करणी सेना जिंदाबाद (फोटो-वीडियो ग्रैब)

फिल्म पद्मावत से जुड़े विवाद खत्म नहीं हो रहे हैं। इस मामले में राजपूत समाज के संगठन करणी सेना को जबर्दस्त आलोचना की शिकार होना पड़ रहा है। छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में करणी सेना के प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए तैनात पुलिसकर्मी उन्हें देखकर इस कदर भावनाओं में बह गया कि वह खुद करणी सेना जिंदाबाद के नारे लगाने लगा। इस वीडियो को जनसत्ता डॉट कॉम के एक दर्शक ने भेजा है। वीडियो में दिख रहा है कि कुछ लोग नारे बाजी कर रहे हैं। उन्हें देखकर पुलिस जिप्सी में बैठा पुलिसकर्मी भी मुस्कुराते हुए कहता है, ‘करणी सेना जिंदाबाद।’ इसके बाद प्रदर्शनकारी कहते हैं, ‘जिंदाबाद-जिंदाबाद।’ इसके बाद हाथों में माइक लिया पुलिसकर्मी फिर कहता है, ‘जिंदाबाद-जिंदाबाद।’ बता दें कि छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर समेत अन्य शहरों में पद्मावत फिल्म का विरोध कर रहे बजरंग दल के 70 कार्यकर्ताओं समेत 100 लोगों को पुलिस ने 25 जनवरी को गिरफ्तार किया। 24 जनवरी को भी रायपुर में करणी सेना के राजपूत नेताओं ने प्रदर्शन किया था। तब पुलिस ने इन पर लाठियां बरसाईं थी और कई लोगों को हिरासत में लिया था।

तब हिरासत से बाहर आने के लिए राजपूत समाज के नेताओं ने पुलिस को लिखित दौर पर दिया था कि वह इस फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन नहीं करेंगे।  रायपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल ने बताया कि शहर के मैग्नेटो माल के करीब पद्मावत फिल्म का विरोध करने पहुंचे बजरंग दल के 70 कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया। दल के कार्यकर्ता यहां मोटर साइकिल रैली लेकर पहुंचे थे। कार्यकर्ता जब फिल्म के विरोध में नारेबाजी करने लगे तब उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। अग्रवाल ने बताया कि रायपुर शहर के अन्य सिनेमाघरों जहां पद्मावत फिल्म लगी हैं वहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

शहर के श्याम सिनेमाघर के संचालक ललित तिवारी ने बताया कि  सिनेमाघर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम है। हालांकि विवाद की आशंका के कारण 25 जनवरी को सुबह के शो में कम दर्शक ही आए। उम्मीद है कि आने वाले समय में दर्शकों की संख्या बढ़ेगी।  बिलासपुर से मिली जानकारी के अनुसार शहर के तीन सिनेमाघरों में यह फिल्म लगाई गई है। राजपूत समाज के लोग जब फिल्म के विरोध के लिए अपने इमलीपारा स्थित कार्यालय में एकत्र हुए थे तब पुलिस ने लगभग 30 लोगों को  गिरफ्तार कर लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 सूरज पाल अमु ने रिपब्लिक रिपोर्टर को दी थप्पड़ मारने की धमकी, कहा- अभी बच्चे हो, अरनब गोस्वामी को भेजता हूं नोटिस
2 लाइव शो में बोले एंकर- करणी सेना ढूंढ़ रही मेरा घर, कुछ हुआ तो…
3 पीएम नरेंद्र मोदी का मजाक उड़ाने वाले कॉमेडियन को खाली करना पड़ेगा घर, फेसबुक पर निकाली भड़ास