Padmavat Release Date in India, Padmavati Movie Release: Youth Leader Abhishek Som gave Warning to PM Narendra Modi in Live TV Debate, Anchor Anjana Om Kashyap replies him Hard; See Video - पद्मावत: डिबेट में PM नरेंद्र मोदी को युवा नेता की धमकी, 'सरकार को हम उखाड़ फेंकेंगे', एंकर बोली- ये गीदड़ भभकी मत भरो - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पद्मावत: डिबेट में PM नरेंद्र मोदी को युवा नेता की धमकी, ‘सरकार को हम उखाड़ फेंकेंगे’, एंकर बोली- ये गीदड़ भभकी मत भरो

सोमवार को एक लाइव टीवी डिबेट में पद्मावत को लेकर नेता-अभिनेता आपस में भिड़ गए। युवा नेता अभिषेक सोम ने इस दौरान प्रधानमंत्री को खुली धमकी दे डाली और कहा कि फिल्म रिलीज हुई तो देश में रण होगा। ऐसा होने पर वह केंद्र सरकार को उखाड़ फेंकेंगे।

‘आजतक’ पर सोमवार को पद्मावत की रिलीज को लेकर डिबेट हो रही थी। अखिल भारतीय क्षत्रिय युवा महासभा के अध्यक्ष अभिषेक सोम ने इस दौरान पीएम को खुली धमकी दे डाली। (फोटोः फेसबुक)

पद्मावत की रिलीज को भले ही सुप्रीम कोर्ट ने हरी झंडी दे दी हो, लेकिन सड़क से लेकर टीवी डिबेट तक फिल्म को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहे। सोमवार को एक लाइव टीवी डिबेट में पद्मावत को लेकर नेता-अभिनेता आपस में भिड़ गए। एक युवा नेता ने इस दौरान प्रधानमंत्री को खुली धमकी दे डाली और कहा कि फिल्म रिलीज हुई तो देश में रण होगा। ऐसा होने पर वह केंद्र सरकार को उखाड़ फेंकेंगे। एंकर ने इस पर उन्हें दुरुस्त करते हुए कहा कि ये गीदड़ भभकी मत भरो। सोमवार को हिंदी चैनल आजतक पर पद्मावत को लेकर डिबेट हो रही थी। एंकर अंजना ओम कश्यप के साथ इस दौरान पैनल में अखिल भारतीय क्षत्रिय युवा महासभा (एबीकेवाईएम) के अध्यक्ष अभिषेक सोम, एसआरआरकेएस के महासचिव सूरज पाल सिंह, फिल्म निर्माता अश्विनी चौधरी, अभिनेता नासिर अबदुल्लाह और अभिनेता मुकेश त्यागी मौजूद थे।

सोम ने चर्चा के दौरान कहा, “25 तारीख को फिल्म रिलीज होनी है। अखिल भारतीय क्षत्रिय युवा महासभा और क्षत्रिय समाज भारत के प्रधानमंत्री को इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के लिए 24 घंटे का समय देता है। अगर उन्होंने इस फिल्म पर विचार मंथन कर ऐसा नहीं किया तो देश में रण होगा। ठाकुर सोम, 24 सी से यह बिगुल बज चुका है। पूरा देश देखेगा कि भारत की सरकार को हम जड़ से उखाड़ फेंकेंगे।” एंकर ने इसी पर उन्हें टोका और कहा, “यह गीदड़ भभकी मत दीजिए”। अंजना इसके बाद दूसरे वक्ता को बोलने का मौका देती हैं।

युवा नेता ने आगे यह भी कहा, “खुद इस देश के पीएम और प्रदेशों के मुख्यमंत्री, सांसद-विधायक कहते हैं कि वे रानी पद्मावती का सम्मान करते हैं। दूसरी ओर सेंसर बोर्ड फिल्म को रिलीज करने की अनुमति दे देता है। ऐसे में हमारे साथ दोहरी राजनीति की जा रही है, जिसका परिणाम सरकार को 2019 में भुगतना होगा।” डिबेट में आगे देखिए क्या हुआ-

पद्मावत सुप्रीम कोर्ट की अनुमति के बाद 25 जनवरी को रि‍लीज होगी। मगर सुप्रीम कोर्ट के इस ऐलान के बाद भी फिल्म को लेकर विरोध जारी हैं। करणी सेना देश के कई हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन कर रही है। संगठन का दावा है कि वह फिल्म रिलीज नहीं होने देगी। वहीं, विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने भी फिल्म की रिलीज को लेकर चेतावनी दी है। उन्होंने कहा है कि वीएचपी इसके खिलाफ प्रदर्शन करेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App