ताज़ा खबर
 

‘आतंकियों को सम्‍मान और प्रधानमंत्री को गालियां’, पीएम मोदी को हिमालय जाने की सलाह देने वाले जिग्‍नेश मेवाणी पर भड़के योगेश्‍वर दत्त

वडगाम से निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने पीएम मोदी को हिमालय चले जाने की सलाह देते हुए कहा कि उनकी तो उमर हो चली है, उनको रिटायर हो जाना चाहिए। मोदी जी अब बूढ़े हो गए हैं।

एक यूजर ने लिखा कि ऐसा मत बोलिए जी, वरना आपको भी ये लिबर्ल लोग भक्त कहेंगे और मीम्स बनाएंगे। इससे पहले तो एक कवि ने अनपढ़ कहा था अब कुछ और कहेंगे।

ओलंपियन पहलवान योगेश्वर दत्त ने देश की राजनीति को लेकर ट्वीट किया है। पहलवान ने लिखा कि, “आश्चर्य होता है अपने देश पर जहां आतंकवादियों को तो सम्मान दिया जाता है और प्रधानमंत्री को गालियां दी जाती हैं! प्रधानमंत्री पूरे देश का सम्मान हैं। उनको गाली देना देश को गाली देना है! यदि संविधान में यह दंडनीय अपराध बना दिया जाए तो शायद किसी की हिम्मत नहीं होगी फिर ऐसा करने की! आपको बता दें कि गुजरात चुनाव में निर्दलीय चुनाव जीतने वाले दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा बयान दिया था। वडगाम से निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने पीएम मोदी को हिमालय चले जाने की सलाह देते हुए कहा था कि, “वे मानसिक रूप से बूढ़े हो गए हैं। अब तो हम युवा आएंगे। राजनीति इस देश का युवा करेगा। उनकी तो उमर हो चली है, उनको रिटायर हो जाना चाहिए। मोदी जी अब बूढ़े हो गए हैं, उनसे कहिए कि हिमालय पर जाकर अपनी हड्डियां गलाएं।”

HOT DEALS
  • Moto Z2 Play 64 GB Fine Gold
    ₹ 15750 MRP ₹ 29499 -47%
    ₹0 Cashback
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 15399 MRP ₹ 16999 -9%
    ₹0 Cashback

ट्वीटर पर @Vandanaruhela ने लिखा कि, “भाई! इन्हें पता नहीं हमारे कर्मयोगी प्रधानमंत्री ने हिमालय पर हड्डियां भी गलाई हैं। मगर ये शॉर्टकट में भरोसा रखने वाले मूर्ख क्या जानें तप होता क्या है। @pradeepk9 ने लिखा कि, “जिनको गाली देने के ही पैसे आतंकवादियों से मिलते हैं वह प्रधानमंत्री क्या अपने बाप को भी दे सकते हैं। @chandan_khaoash ने लिखा कि, “ऐसा मत बोलिए जी, वरना आपको भी ये लिबर्ल लोग भक्त कहेंगे और मीम्स बनाएंगे। इससे पहले तो एक कवि ने अनपढ़ कहा था अब कुछ और कहेंगे।

@SKSHUKLAADVOCAT ने लिखा कि, “जिस देश में देश द्रोहियों को बिरयानी खिलाई जाती हो, तथाकथित विद्वान न्यायाधीश 15 से 35 साल अपराधी को अपराधी साबित करने में लगा देते हों। उनकी विद्वता को शत शत नमन। ऐसे न्याय तंत्र से कौन अपराधी डरेगा। गाली तो गाली वो गोली का प्रयोग करने में भी नहीं हिचकेगा। @Its_RANDHIR ने लिखा कि,” क्योंकि भारत मे कुत्तों को मारने की इजाजत नही है, इसलिए गाली देकर भी बच जाते हैं। @SONUSID51620806 ने लिखा कि, “अच्छा है गंदगी बाहर निकल रही है वरना अंदर ही अंदर ये लोग देश को खोखला कर देते।

https://www.jansatta.com/trending/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App