पॉर्न वेबसाइट्स पहले हो चुकी बंद, अब ये वेबसाइट भी बंद करने जा रही एडल्‍ट कंटेंट, लोग भड़के

बीते दिनों ही एप्पल स्टोर से इस ऐप को हटा दिया गया था। टम्बलर पर चाइल्ड पॉर्नोग्राफी कंटेंट शेयर होने के चलते ऐप को स्टोर से हटाया गया था।

कंपनी की नई पॉलिसी 17 दिसंबर 2018 को आ जाएगी।

बीते महीने नवंबर में भारत में पॉर्नोग्राफी पर कड़ा एक्शन लेते हुए करीब 850 एडल्ट कंटेंट परोसने वाली साइटें ब्लॉक कर दी गई थीं। विश्व की कई अन्य जगहों पर भी बीते काफी समय से पॉर्न को बैन करने की मांग की जा रही है। इस पर फैसले भी लिए गए। इस बीच अब माइक्रोब्लॉगिंग और सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट टम्बलर ने भी अपने प्लेटफॉर्म पर एडल्ट कंटेंट बैन करने का फैसला लिया है। लेकिन कंपनी के इस फैसले पर लोग भड़क गए हैं।

टम्बलर पूरी तरह से सभी प्रकार के एडल्ट कंटेंट को बैन करने जा रहा है। कंपनी ने इसकी जानकारी विस्तार से एक ब्लॉग पोस्ट के जरिए दी है। जिसमें कहा गया है कि, बेटर टम्बलर बनने की कोशिश। बीते दिनों ही एप्पल स्टोर से इस ऐप को हटा दिया गया था। टम्बलर पर चाइल्ड पॉर्नोग्राफी कंटेंट शेयर होने के चलते ऐप को स्टोर से हटाया गया था। कंपनी की नई पॉलिसी 17 दिसंबर 2018 को आ जाएगी।

टम्बलर ने जारी किए ब्लॉग में स्पष्ट तौर पर कहा है कि, कंपनी अब किसी भी तरह के एडल्ट कंटेंट या न्यूडिटी को अलाउ नहीं करेगी। ब्लॉग में चाइल्ड पॉर्नोग्राफी पर जोर देते हुए कहा गया है कि, साइट पर ऐसे किसी भी कंटेंट की जगह नहीं है जो बच्चों के लिए हार्मफुल हो। इसकी हमारी कम्युनिटी में कोई जगह नहीं है। कंपनी ने कहा है कि, अब एडल्ट कंटेंट पर जीरो टॉलरेंस पॉलिसी होगी।

टम्बलर ने दावा किया कि, साइट से एडल्ट कंटेंट को दूर रखने के लिए इसकी निगरानी कराई जाएगी। इसके लिए मशीनरी के साथ इंसानों को भी लगाया जा जाएगा। साथ ही यूजर टूल के जरिए भी बच्चों के संबंधित खराब कंटेट की रिपोर्ट की जा सकेगी। टम्बलर ने अपनी कम्युनिटी गाइडलाइंस को भी अपडेट कर दिया है। बलॉग के जरिए कंपनी ने यह भी कहा कि, टम्बलर ने माना कि यह एक ऐसा प्लेटफॉर्म रहा है जहां आर्ट, सेक्स पॉजिटिविटी, रिलेशनशिप्स, सेक्सुएलिटी के मुद्दों पर खुली बहस होती रही है। हालांकि नई पॉलिसी में ऐसा नहीं होगा।

हालांकि टम्बलर द्वारा अपने प्लेटफॉर्म पर एडल्ट कंटेंट बैन करने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों की नाराजगी भी देखने को मिल रही है। कई यूजर ने टम्बलर से पॉर्न कंटेंट बैन करने के फैसले पर फिर से विचार करने की गुजारिश भी की है। वहीं कुछ ने कंपनी के फैसले पर सवाल भी उठाए हैं।

ट्विवटर स्क्रीन शॉट

बता दें कि, बीते महीने मशहूर कॉफी कंपनी स्टारबक्स ने भी कुछ ऐसा ही फैसला लिया था। कंपनी ने घोषणा की थी कि, 2019 से अमेरिका में अपने सभी आउटलेट्स पर उपलब्ध होने वाले फ्री वाई फाई पर पॉर्नोग्राफी बैन कर देगा। कंपनी पर यह फैसला लेने का दबाव वर्जीनिया के एक एनजीओ इनफ इज इनफ ने बनाया था।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X