ताज़ा खबर
 

No Confidence Motion in Lok Sabha: नरेंद्र मोदी से राहुल गांधी के गले मिलने को बरखा दत्‍त ने बताया लव जिहाद, पूछा- पीएम कैसे देंगे जवाब?

अविश्वास प्रस्ताव, No Confidence Motion against NDA/BJP Government in Lok Sabha: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अविश्वास प्रस्ताव पर चल रही बहस में हिस्सा लेते हुए पीएम नरेंद्र मोदी से गले मिलने चले गए थे। वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने इसे लव जिहाद बताया है।

Author नई दिल्ली | July 20, 2018 7:17 PM
Parliament Monsoon Session 2018 20 July Live: लोकसभा में पीएम नरेंद्र मोदी से गले मिलने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया की ओर आंख मटकाते राहुल गांधी। (फोटो सोर्स: एएनआई)

अविश्वास प्रस्ताव के दौरान लोकसभा में विपक्षी दलों के कई नेताओं ने अपने अभिभाषण में मोदी सरकार पर हमला बोला। सदन की दूसरी बड़ी पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी पार्टी का पक्ष रखा। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ काफी ज्यादा आक्रामक थे। उन्होंने पीएम पर कई आरोप लगाए। राहुल ने चौंकाने वाला कदम उठाते हुए अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान ही उठकर पीएम मोदी के पास गए और उनसे गले मिले। हालांकि, कांग्रेस अध्यक्ष के इस कदम पर वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने तीखी टिप्पणी की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी को गले लगाया और उसके बाद चुटीले अंदाज में ज्योतिरादित्य सिंधिया को देखते हुए आंख मटकाई। अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान उनका यह कदम हेडलाइन में आ गया। निस्संदेह यह योजनाबद्ध तरीके से किया गया था। लेकिन, इस ‘लव जिहाद’ के बाद प्रधानमंत्री हाजिरजवाबी, मजाकिया या फिर गुस्से के अंदाज में इसका जवाब देंगे?’

बरखा दत्त का ट्वीट आने के बाद लोगों ने टि्वटर पर प्रतिक्रिया जतानी शुरू कर दी। गोपा कुमार ने लिखा, ‘अभी से डरने लगे।’ दूसरे शख्स ने ट्वीट किया, ‘संसद में पहली बार ऐसा हुआ है। संसद की आज की कार्यवाही बेहद दिलचस्प रही। इसका पूरा श्रेय राहुल गांधी को जाता है।’ सत्यजीत ने लिखा, ‘अब से लेकर दो दिनों तक एक ही हेडलाइन रहेगी। लेकिन, मौजू मसलों जैसे स्वास्थ्य सेवा और सड़कों की बदहाल स्थिति का क्या होगा? कोई भी राजनीतिक दल वास्तविक मसलों पर बात नहीं कर रहा है।’ रोहित ने लिखा, ‘आप लोग तो राहुल गांधी से प्यार को भी ठीक से नहीं छुपा पाते हैं।’ बता दें कि TDP की ओर से माोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया गया था, जिसे लोकसभा की अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने मंजूर कर लिया था। NDA सरकार के खिलाफ बजट सत्र में भी अविश्वास प्रस्ताव दिया गया था, लेकिन सदन में हंगामे को देखते हुए इसे स्वीकार नहीं किया गया था, लेकिन इस बार लोकसभा की अध्यक्ष ने इसे स्वीकार कर लिया। TDP के प्रस्ताव को कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने अपना समर्थन दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App