ताज़ा खबर
 

‘लगता है आपको बिहार वाला भैक्सीन घोंपना पड़ेगा..’, रवीश कुमार ने लिखा डोनल्ड ट्रंप को ओपन लेटर

Ravish Kumar ने लिखा- ट्रंप भैया, आप बिहार के होते न तो भैक्सीनवा सबसे पहिले आपको ही दिलवा देते। मोटका मोटका सुई लेले सब घूम रहीस है। जेन्ने बिहारी देखता है ओन्ने घोपे ला दउड़े लगता है। बिहारी लोग बूझ गया है। देखते ही भागे लगता है।

Author October 23, 2020 11:52 AM
Bihar Elections, narendra modiNDTV के पत्रकार रवीश कुमार ने यूएस प्रेसीडेंट को खुला खत लिखकर चुटकी ली है।

कोरोना संकट के बीच अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर चुनाव प्रचार अभियान जोरों पर है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और जो बिडेनके बीच शुक्रवार को प्रेसिडेंशियल डिबेट हुई। प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत का भी जिक्र किया। ट्रंप ने कहा कि जलवायु परिवर्तन को लेकर लड़ाई में भारत, रूस और चीन का रिकॉर्ड खराब रहा है। ट्रंप के इस बयाना पर भारतीय बिफर पड़े हैं।

यूएस प्रेसीडेंट द्वारा सार्वजनिक मंच से भारत की ऐसी आलोचना को लेकर इंडियन सोशल मीडिया यूजर्स उन्हें ट्रोल कर रहे हैं। लोग ट्रंप को अपशब्द भी लिख रहे हैं। इन्हीं सबके बीच वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने ट्रंप के बयान पर चुटकी ली है। चुटकी लेते हुए रवीश कुमार न डोनल्ड ट्रंप को खुला खत भी लिखा है। रवीश कुनार ने ये ओपन लेटर अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट किया है। पढ़िए पूरा खत:

आदरणीय ट्रंप भाई, आप काहें बोले कि भारत की हवा मलिन है। गंदी है। अपने फ़्रेंड के कंट्री की हवा को अइसे बोलिएगा। दू दू जगह आपके फ़्रेंड आपका प्रचार किए आ आप बोल रहे हैं इंडिया का हवे ख़राब है। भक्त सब ऐही लिए हवन किया था कि ट्रंप अंकल को जीताओ आ आप फ़्रेंड के कंट्री के बारे में अइसे बोलें? मने हमको कुछ बूझते हैं कि नहीं। थोड़ा मिला-मिलु के नहीं बोल सकते थे, गोल गोल फ़्रेंड जइसन।

देख ए ट्रंप बाबू. ढेर डिबेट का शौक़ चढ़ल है न तो आ जाइये बिहार।आपके फ़्रेंड जाने वाले हैं। ऊहां भैक्सीन बाँटने वाले हैं। फिरी में बाँटेंगे। आठ करोड़ भैक्सीन फिरी में देंगे। त हम बूझे कि सगरो फिरी बंटेगा लेकिन फ़्रेंड भाई का पलानिंग त आप जानते ही हैं। आपके ही जइसन है।

ट्रंप भैया, आप बिहार के होते न तो भैक्सीनवा सबसे पहिले आपको ही दिलवा देते। मोटका मोटका सुई लेले सब घूम रहीस है। जेन्ने बिहारी देखता है ओन्ने घोपे ला दउड़े लगता है। बिहारी लोग बूझ गया है। देखते ही भागे लगता है। बिहारी लोग त मिला लिया है न कि ई सब घोड़ा डागदर है। कउनो भैक्सीन नहीं है एकनी के पास। खऊरा का सुई कोरोना का बता के घोंप देगा। आपको भैक्सीन चाहिए त बोल दीजिएगा। आपको भी घोंपवा देंगे।

ग़ज़बे कर दिए हैं आपके फ्रैंड भी। ख़ाली सीरींज में पानी भर के बिहारियों को घोंपने जा रहे हैं कि सबसे पहिले तोहनिये के घोपेंगे। एहीसे कहते हैं ट्रंप जी, इंडिया के बारे में सोच समझ कर बोलें। बिहारी सब बमक जाएगा न तो भैक्सीनवा सबसे पहिए आपको ही घोंप देगा। लगिएगा बिलबिलाने । फ्रैंड के कंट्री के हवा को गंदा मत बोलिए। जेतना कार्बन आपका कंट्री पैदा करता है न ओतना त हम लोग सूंघ के साफ कर देते हैं। बूझे।

बिहार में लोग ट्रंप-ट्रूंप को कुछ नहीं बूझता है। कोरोना को भी कोई कुछ नहीं बूझ रहा है। बाक़ी हवा त ख़राब है ही। दिल्ली में नाक में चिमनी खुल जाती है। लेटरवा को ट्रांसलेट करा लीजिएगा। हाई फ़ाई इंग्लिश में लिखे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘मंगरू भइल बीमार कि तेजुआ सटल रहे..’, बिहार चुनाव पर डिबेट शो में भोजपुरी गाना गाने लगे संबित पात्रा
2 ‘आपने इतना गौमूत्र पी लिया है कि मुंह से भी गोबर ही निकल रहा ‘, बीजेपी के संबित पात्रा पर बरसीं रागिनी नायक
3 जब जूनियर एंकर थे अर्नब, तब इजाद की थी ‘नेशन वांट्स टू नो…’ पंच लाइन, जानें पूरा किस्सा
यह पढ़ा क्या?
X