NDTV journalist Nidhi Razdan replies to social media users for trolling her by saying rahul gandhi doggy Pidi - राहुल का डॉगी 'पिद्दी' कहने वालों को एनडीटीवी की महिला पत्रकार ने दिया मुंहतोड़ जवाब - Jansatta
ताज़ा खबर
 

राहुल का डॉगी ‘पिद्दी’ कहने वालों को एनडीटीवी की महिला पत्रकार ने दिया मुंहतोड़ जवाब

महिला पत्रकार ने उन लोगों पर जमकर निशाना साधा है जो उनकी तुलना राहुल गांधी के कुत्ते 'पिद्दी' से करते हैं।

महिला पत्रकार निधि राजदान (फाइल फोटो)

अक्सर किसी ना किसी मामले को लेकर चर्चा में रहने वाली एनडीटीवी की महिला पत्रकार निधि राजदान एक बार फिर खबरों में हैं। इस बार निधि अपने उस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया पर छाई हुई हैं, जिसमें उन्होंने खुद को ‘पिद्दी’ कहे जाने के मामले पर लोगों को मुंहतोड़ जवाब दिया है। महिला पत्रकार ने उन लोगों पर जमकर निशाना साधा है जो उनकी तुलना राहुल गांधी के कुत्ते ‘पिद्दी’ से करते हैं। निधि राजदान ने अपने ट्वीट में कहा, ‘मुझे पिद्दी कहने वाले सभी ट्रोल्स: मुझे कुत्ते बहुत पसंद हैं और वे इंसानों से कहीं ज्यादा अच्छे और स्मार्ट होते हैं। इसलिए मुझे ऐसा कॉम्प्लीमेंट देने के लिए धन्यवाद।’ दरअसल सोशल मीडिया यूजर्स का एक धड़ा पिछले कुछ दिनों से पत्रकार राजदान की तुलना राहुल गांधी के डॉगी ‘पिद्दी’ से करते हुए उन्हें ट्विटर पर ट्रोल कर रहा था। लोगों के इन्हीं कमेंट्स पर एनडीटीवी पत्रकार ने जवाब दिया है और उन्हें धन्यवाद कहा है। हालांकि उनके जवाब के बाद एक बार फिर लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया है।

इससे पहले निधि राजदान अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा से एक सवाल पूछे जाने के मामले को लेकर चर्चा में आई थीं। दरअसल कुछ दिनों पहले ओबामा भारत यात्रा पर थे, उस दौरान ओबामा फाउंडेशन की तरफ से दिल्ली में युवा नेताओं के लिए टाउन हॉल का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में निधि राजदान भी शामिल हुई थीं, जहां उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति से सवाल करने की गुजारिश की, जिस पर ओबामा ने उनका सवाल सुने बिना ही उसका जवाब देने से मना कर दिया। ओबामा ने कहा, ‘तो आप एक पत्रकार हैं। आपको सवाल पूछने का अवसर नहीं दिया जाना चाहिए। आप बैठ जाइए। आपको देख कर लग रहा है कि आप बहुत ही अच्छी पत्रकार हैं और आप काफी प्रोफेशनल भी दिख रही हैं, लेकिन आप सवाल नहीं पूछ सकतीं क्योंकि यह युवाओं का कार्यक्रम है, हमारा उद्देश्य उनकी बातें सुनना है, आप उन्हें मौका दीजिए।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App