ताज़ा खबर
 

राजनीति का जहरखुरानी ग‍िरोह बोल रवीश कुमार ने नरेंद्र मोदी सहित नेताओं पर साधा न‍िशाना, लोगों ने मारा ताना

रवीश कुमार के इस फेसबुक पोस्ट पर कुछ यूजर्स ने उनको ही ताने मारने शुरू कर दिये।
वरिष्ठ टीवी पत्रकार रवीश कुमार।( File Photo)

वरिष्ठ पत्रकार और एनडीटीवी के एंकर रवीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कुछ अन्य नेताओं पर हमला बोला है। दरअसल महाराष्‍ट्र में इन दिनों अपनी कपास को कीड़े से बचाने की जुगत में किसान अनजाने में मौत को गले लगा रहे हैं। इन मौतों की वजह किसानों द्वारा खरीदा गया वह कीटनाशक बताया जा रहा है जिसे उन्‍होंने फसल पर कीड़े खत्‍म करने के लिए छिड़का था। पिछले कुछ दिनों में कीटनाशक रसायन के छिड़काव के कारण हुई 25 में से 20 किसानों की मौत अकेले यवतमाल जिले में ही हुई हैं। इन्हीं किसानों की मौत पर रवीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,लालू यादव समेत राहुल गांधी का जिक्र करते हुए अपने फेसबुक वॉल पर राजनीति के जहरखुरानों से सावधान रहने की बात कही है।

रवीश कुमार ने गुरुवार को अपने फेसबुक वॉल पर पीएम मोदी के उस भाषण का जिक्र किया है जो उन्होंने अपने गृहनगर वडनगर में दिया था। इस भाषण में पीएम ने कहा था कि ‘भोले बाबा के आशीर्वाद ने मुझे ज़हर पीने और उसे पचाने की शक्ति दी, इस क्षमता ने मुझे इन वर्षों में समर्पण के साथ मातृभूमि की सेवा करने की शक्ति दी।’ रवीश ने इस भाषण का जिक्र करते हुए लिखा कि महाराष्ट्र के यवतमाल में कीटनाशक के ज़हर से बीस किसानों की जान चली गई है। आठ सौ किसान अस्पताल में हैं। अठारह सौ किसान ज़हर से प्रभावित हुए हैं। जिसने ज़हर पी उसकी कोई बात नहीं। उन्हें यह भी कहने का मौका नहीं मिला कि वे शिव के उपासक थे।

रवीश कुमार ने अपने भाषणों में जहर पीने की बात करने वाले नेताओं से सवाल भी पूछा कि, ‘भारतीय राजनीति में कोई ज़हरख़ुरानी गिरोह तो नहीं है जो सबको ज़हर पीला रहा है। पहले इस गिरोह को पकड़ो। तब तक स्कूल, कॉलेज और अस्पताल की बात कीजिए जिसके न होने पर जनता रोज़ ज़हर पीती है। आप नेता हैं, आप ज़हर पी कर भी बच सकते हैं। यवतमाल के किसान तो मर गए। उन्होंने तो नेताओं की झूठ का ज़हर पीया।’

हालांकि रवीश कुमार के इस फेसबुक पोस्ट पर कुछ यूजर्स ने कमेंट करते हुए उनको ही ताने मारने शुरू कर दिये। ऐसे यूजर्स ने लिखा कि आप हमेशा अपने आप को एक विक्टिम की तरह पेश करते हैं। वहीं कुछ ने लिखा कि आपको पीएम मोदी से शिकायत है तो रखो लेकिन भगवान शंकर को बीच में ना घसीटो।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.