ताज़ा खबर
 

पत्रकार रवीश कुमार ने चुनाव आयोग पर बोला हमला, फेसबुक पर लिखा- नतीजों से पहले हार गए

रवीश कुमार के इस पोस्ट पर लोगों की मिली जुली प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।
पहला कुलदीप नैयर अवार्ड हासिल करने के बाद बोलते रवीश कुमार। (Source: YouTube)

एनडीटीवी के एंकर और वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार मे चुनाव आयोग पर निशाना साधा है। रवीश कुमार ने फेसबुक पर पोस्ट लिखते हुए कहा है कि चुनाव आयोग नतीजों से पहले हार गया है। दरअसल गुरुवार को गुजरात विधानसभा चुनाव के दूसरे और आखिरी चरण के लिए मतदान हो रहा है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी अपना वोट डालने पहुंचे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साबरमती के बूथ नंबर 115 से मतदान किया। वोट डालने के बाद प्रधानमंत्री ने कार में सवार होकर कुछ दूरी तक रोड शो किया। इस दौरान वह वहां उमड़ी भीड़ की तरफ हाथ हिलाकर उनका अभिवादन स्वीकार कर रहे थे। प्रधानमंत्री द्वारा वोटिंग के दिन इस तरह से रोड शो करना चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन बताया जा रहा है। कांग्रेस ने तो प्रधानमंत्री के इस रोड शो पर आपत्ति जताते हुए चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई है। सोशल मीडिया पर भी पीएम के इस रोड शो पर लोग अपनी आपत्ति जता रहे हैं औऱ सवाल पूछ रहे हैं कि क्या चुनाव आयोग सो गया है।

रवीश कुमार ने भी इस रोड शो के बाद फेसबुक पर पोस्ट लिख चुनाव आयोग को कटघरे में खड़ा किया है। रवीश ने लिखा – 18 दिसंबर को बीजेपी और कांग्रेस में से कोई एक हारेगा। मगर गुजरात में एक दूसरा भी है जो नतीजा आने से पहले हार चुका है। उसका नाम है चुनाव आयोग। असतो मा सदगमय, तमसो मा ज्योतिर्गमय। आपको बता दें कि 18 दिसंबर को गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजे आने हैं। उस दिन तय हो जाएगा कि गुजरात में बीजेपी सरकार बनाएगी या फिर 22 साल बाद कांग्रेस सत्ता में वापसी करेगी।

रवीश कुमार के इस पोस्ट पर लोगों की मिली जुली प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। जहां कुछ लोग रवीश से सहमति जताते हुए चुनाव आयोग को कोस रहे हैं वहीं बहुत से लोग रवीश कुमार को अपशब्द भी कह रहे हैं। लोग लिख रहे हैं कि तीन साल से एक और शख्स है जो खुद को हारा हुआ महसूस कर रहा है और वो है रवीश कुमार।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. J
    Jai bharat
    Dec 15, 2017 at 5:34 am
    Modi bhakton kii bhasha Modiji ki tarah jhooth aur Takisha hai. Modiji kaa chehara haaon se bhara najar aata hai. Unako lagataa hai kii jo wo karate hain sab Shahi hota hai. Guroor itana bhii na Karo yaron kii baad mein Knudsen par tarash aaye....log thak gaye hain ab jhooth aur jumalon se. Logon ko samajh aa gayaa hai kii jab tak EVM machines aur chunaav aayog kaa BJP ke prati dhulmul ravaiyya rahega, desh se naa Modiji jaayegein naa kaam karane waala sarkar banegi. Jai hind ,Vanderbilt mataram
    (5)(0)
    Reply