ताज़ा खबर
 

पीएमओ में हर दिन बनती है सोशल मीडिया रिपोर्ट, विदेश में भी जरूर पढ़ते हैं पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय है। इस सक्रियता में प्रधानमंत्री कार्यालय(पीएमओ) की काफी भूमिका रहती है। पीएमओ हर दिन एक सोशल मीडिया रिपोर्ट बनाता है।

Author नई दिल्ली | June 3, 2018 6:04 PM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फाइल फोटो। सोर्स- रॉयटर्स

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय है। इस सक्रियता में प्रधानमंत्री कार्यालय(पीएमओ) की काफी भूमिका रहती है। पीएमओ हर दिन एक सोशल मीडिया रिपोर्ट बनाता है।यह रिपोर्ट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने रोजना रखी जाती है। रिपोर्ट में ट्वीट्स की सूची होती है। जिस पर प्रधानमंत्री अपनी सहमति या असहमति जाहिर करते हैं। उसी आधार पर उनके सोशल मीडिया अकाउंट्स अपडेट होते हैं।

अगर प्रधानमंत्री विदेश में होते हैं तो भी उन्हें पीएमओ का स्टाफ सोशल मीडिया रिपोर्ट दिखाता है। इस रिपोर्ट में ट्वीट किए जाने वाले कंटेंट के साथ देश में ज्वलंत मुद्दों पर आ रहे तमाम प्रमुख लोगों के बयान आदि का जिक्र होता है। जिसके आधार पर प्रधानमंत्री कार्यालय अपनी सोशल मीडिया स्ट्रेटजी तय करता है। दैनिक भाष्कर ने अप्रैल महीने की रिपोर्ट के आधार पर दावा किया है कि प्रधानमंत्री कार्यालय हर दिन कम से कम 125 से 175 ट्वीट कमेंट्स की लिस्ट तैयार करता है। इसमें दलित, सांप्रदायिक विषयों से जुड़े मामलों पर आए बयानों का विवरण रखा जाता है। कठुआ रेप केस भी आ रहे बयानों पर पीएमओ ने खासी नजर रखी। दैनिक भाष्कर की रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन दौरे के दौरान वहां के प्रधानमंत्री से हाथ मिलाने की फोटो को किस अखबार या चैनल ने तवज्जो दी इसकी रिपोर्ट बनी। इसके अलावा मन की बात दिखाने और न दिखाने वाले चैनलों की भी पीएमओ ने रिपोर्ट तैयार की।

सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए पीएमओ में तैनात चार से पांच सोशल मीडिया एक्सपर्ट यह रिपोर्ट तैयार करते हैं।बताया जाता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस रिपोर्ट को प्रतिदिन पढ़ना नहीं भूलते।कहा गया है कि रिपोर्ट में बेरोजगारी, शिक्षा और स्वास्थ्य जैसे बुनियादी मुद्दों को जगह नहीं दी गई।उधर जब दैनिक भाष्कर ने 25 मई को ईमेल भेजकर प्रधानमंत्री कार्यालय का पक्ष जानने की कोशिश की तो 28 मई तक कोई जवाब नहीं मिला।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App