ताज़ा खबर
 

Viral Video: गणेश पूजा के लिए चंदा कम दिया तो मुस्लिम मजदूरों से करवाई उठक-बैठक

पूजा के आयोजक 100 रुपया चंदा मांग रहे थे जबकि मजदूर 50 रुपया देने के लिए तैयार थे।

घटना के वीडियो का स्क्रीन शॉट

उत्तर प्रदेश के 11 प्रवासी मुस्लिम मजदूरों को पुणे में स्थानीय गणेश मंडल के सदस्यों द्वारा कथित तौर पर अपमानित करने और धमकी दिए जाने का मामला सामने आया है। पुलिस के अनुसार गणेश पूजा का आयोजन करने वाले श्री राम गणेश मंडल के सदस्य इन मजूदरों से चंदा मांग रहे थे। पुलिस ने मामले में तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। घटना के बाद कुछ मजदूर अपने वापस अपने गृह प्रदेश लौट गए हैं। पुणे की एक बेकरी में काम करने वाले सभी मजदूरों की उम्र 20 से 40 साल के बीच है। खबरों के अनुसार पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के बाद कुछ मजदूरों ने नौकरी छोड़ दी और वापस अपने घर चले गए।

घटना 15 अगस्त को उस समय हुई जब गणेश मंडल के कुछ सदस्य पिंपरी-चिंचवाड़ स्थित क्राउन बेकरी पर गणपति वरगनी (गणेश पूजा के लिए चंदा) मांगने गए थे। पुलिस के अनुसार मंडल से सदस्य चंदे में 100 रुपया मांग रहे थे जबकि मजदूर केवल 50 रुपये देने को तैयार थे। मजदूरों के 100 रुपया चंदा देने से इनकार करने के बाद मंडल के सदस्यों ने कथित तौर पर मजदूरों को धमकी दी और उनसे उठक-बैठक भी करवाई। पुलिस के अनुसार मंडल सदस्यों ने घटना को अपने मोबाइल पर रिकॉर्ड भी किया और अपने दोस्तों के साथ शेयर किया। ये वीडियो बाद में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जिसके बाद शनिवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई।

असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर महेश स्वामी ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “हमने गणेश मंडल के तीन सदस्यों के खिलाफ मामला दर्ज किया है लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं किया है। उनका अपराध जमानती है। तीनों अभियुक्तों को सोमवार को अदालत में पेश होने के लिए नोटिस भेज दी गई है.” पुलिस के अनुसार जमानती आरोपों पर वो सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुसार काम कर रही है। स्वामी ने कहा, “जब तीन-चार शिकायतकर्ता हमारे पास आए तो हमने कार्रवाई की। शिकायतकर्ताओं ने बताया कि उन्हें अपमानित किया गया और धमकी दी गई।”

Video: 14 साल की उम्र में नौ महीने तक रेप के शिकार हुई पीड़िता ने कहा- पोर्न की वजह से होता था रेप

रविवार को जब इंडियन एक्सप्रेस क्राउन बेकरी में पहुंचा तो वहां के कामगारों ने बताया कि नए नियुक्त कर्मचारी हैं और जो कर्मचारी मामले में शामिल थे वो नौकरी छोड़कर जा चुके हैं। बेकरी के एक कर्मचारी ने कहा, “हमें नहीं पता कि वो लगा कहां हैं। हो सकता है वो लोग पुणे से जा चुके हों।” बेकरी मालिक ने मामले पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। मालिक ने कहा, “मामला खत्म हो चुका है….हम इसे खींचना नहीं चाहते।” स्वामी के अनुसार बेकरी मालिक ने उनसे कहा कि तीन-चार नवयुवक अपने गांव उत्तर प्रदेश जा चुके हैं। स्वामी के अनुसार, “बाकी नौजवान डर के मारे काम पर नहीं आ रहे हैं।”

घटना का वीडियो:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App