अखिलेश यादव से पूछा – जिन्ना पर जुबान फिसली थी या स्ट्रैटेजी के साथ किया था नाम का इस्तेमाल? इस सवाल पर SP प्रमुख ने दिया कुछ ऐसा जवाब

अखिलेश ने सीट बंटवारे को लेकर कहा कि जहां जिस पार्टी का प्रत्याशी जीत सकता है। उसी को हम टिकट देंगे।

SP Pramukh Photo, Akhilesh Yadav PTI
सपा प्रमुख अखिलेश यादव (फोटो सोर्स – पीटीआई)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के अब चंद महीने बचे हैं। ऐसे में पार्टियां सत्ता पर काबिज होने के लिए जोर आजमाइश करती नजर आ रही हैं। एक तरफ बीजेपी अपने किए गए कामों का लेखा-जोखा लेकर जनता के बीच पहुंच रही है तो वहीं विपक्षी पार्टियां योगी आदित्यनाथ सरकार को फेल बता रही हैं। यूपी के पूर्व सीएम व सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने एबीपी न्यूज़ एक इंटरव्यू के दौरान कई मुद्दों पर बीजेपी को जमकर घेरा।

एंकर रुबिका लियाकत ने उनसे पूछा कि आपने चुनावी जनसभा के दौरान जिन्ना का नाम लिया था। वह आपने गलती से लिया था या फिर किसी स्ट्रेटजी के तहत इस नाम का इस्तेमाल किया था? दूसरी तरफ आप गन्ने का भी जिक्र कर रहे हैं? इसके जवाब में सपा प्रमुख ने कहा, ” सरकार को किसानों के गन्ने के बकाया पैसे देने चाहिए। इन्होंने जो भी वादा किसानों से किया था वह पूरा करने में फेल साबित हुए हैं। ये किसानों के साथ धोखा कर रहे हैं।”

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए अखिलेश ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को अपने पुराने मंत्रियों की किताबों को पढ़ना चाहिए जिन्होंने जिन्ना के बारे में लिखा हुआ है। उन्होंने अपने जिन्ना वाले बयान पर सफाई देते हुए कहा कि मैंने केवल वहां पर यह कहा था कि सरदार पटेल कहां पर पढ़े थे और उनके साथ किसने पढ़ाई की थी। कभी-कभी एक जगह ही पढ़ाई करके लोग अलग – अलग तरीके के काम करते हैं।

उन्होंने कहा कि अगर मेरे पूरे भाषण को आप सुनेंगे तो समझ पाएंगे कि मैंने वह बात किस तरह कही थी। छोटी पार्टियों के साथ गठबंधन को लेकर पूछे गए एक सवाल पर अखिलेश ने कहा कि ये देश हमारा कई जातियों और धर्मों के साथ मिलकर बना हुआ है। हम सभी धर्म और जाति को मिलाकर एक गुलदस्ता बना रहे हैं। ये हमारी खूबसूरती है कि इतने सारे जाति धर्म के लोग इस देश में रहते हैं। एक रंगी लोग देश नहीं चला सकते हैं।

इसके साथ ही अखिलेश ने सीट बंटवारे को लेकर कहा कि जहां जिस पार्टी का प्रत्याशी जीत सकता है। उसी को हम टिकट देंगे। आरएलडी को कितनी सीटें दी जाएंगी? इस पर अखिलेश ने बताया कि इस विषय पर हम विचार करेंगे और आने वाले समय में इसकी जानकारी सभी को दे दी जाएगी। बता दें कि अखिलेश यादव के साथ गठबंधन में आरएलडी और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी की भूमिका बाकी दलों से बड़ी होगी।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट