स्वास्थ्य सुधारने का मतलब ब्यूटी पार्लर जाना नहीं होता, महिलाओं के लिए अपर्णा यादव ने कही थी यह बात

योग और प्राणायाम की सलाह देते हुए अपर्णा ने कहा था, महिलाओं के लिए केंद्र सरकार या राज्य सरकारें अच्छी पॉलिसी लेकर आती है पर उन का निर्वहन सही ढंग से नहीं हो पाता है।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
अपर्णा यादव (फोटो सोर्स – पीटीआई)

मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने एक बार एक इंटरव्यू में कहा था कि महिलाओं को अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने कहा था महिलाओं को योग और व्यायाम करना चाहिए। स्वास्थ्य पर ध्यान देने का अर्थ केवल ब्यूटी पार्लर जाना नहीं होता।

अपर्णा ने कहा था कि छोटी बच्चियों को खासकर ग्रामीण इलाकों की लड़कियों को स्कूल भेजना चाहिए। उन्होंने रायबरेली का उदाहरण देते हुए कहा था कि, ‘कई ऐसी जगह हैं जहां स्कूल तक जाने के लिए सड़क नहीं हैं। ऐसे में हम शिक्षा व्यवस्था को कैसे बेहतर कर सकते हैं।’

बकौल अपर्णा, समाज में महिलाओं की स्थिति तभी सुधरेगी जब उनकी शिक्षा पर बेहतर ढंग से काम किया जाएगा। शिक्षा को पहला स्टेप बताते हुए अपर्णा ने कहा था अगर इसमें सुधार हो जाएगा तो समाज को सुधारने में ज्यादा वक्त नहीं लगेगा। उन्होंने कहा था कि समाज की जिम्मेदारी है कि वह महिलाओं को सुरक्षा दे।

अपर्णा यादव के कहने पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने भातखंडे यूनिवर्सिटी के लिए किया था यह काम

गुलाबी गैंग का जिक्र करते हुए कहा था कि जहां पर पुलिस नहीं पहुंच पाती थी वहां पर यह ग्रुप पहुंचकर महिलाओं को सुरक्षा देने का काम कर रहे हैं। अपर्णा के अनुसार, जब तक महिलाएं सशस्त्र नहीं होंगी तब तक वह सशक्त नहीं बन सकेंगी। यह महिलाओं की भी जिम्मेदारी है कि वह अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें।

योग और प्राणायाम की सलाह देते हुए अपर्णा ने कहा था, महिलाओं के लिए केंद्र सरकार या राज्य सरकारें अच्छी पॉलिसी लेकर आती है पर उन का निर्वहन सही ढंग से नहीं हो पाता है।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट