ताज़ा खबर
 

…जब मैदान पर साथी खिलाड़ियों को पानी पिलाने के लिए खुद ही चल दिए महेंद्र सिंह धोनी

बांग्लादेश के खिलाफ अभ्यास मैच में धोनी नहीं खेले थे उनकी जगह विकेट कीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक को खिलाया गया था।

बांग्लादेश के खिलाफ अभ्यास मैच में कोल्ड ड्रिंक लेकर जाते हुए एमएस धोनी (फोटो सोर्स फेसबकु)

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को आपने विकेट कीपिंग, बैटिंग और बॉलिंग करते हुए बखूबी देखा होगा। लेकिन चैंपियंस ट्रॉफी के दूसरे मैच के दौरान धोनी प्रशंसकों को अलग ही अवतार में नजर आए। मैच में प्रशंसकों ने धोनी को कोल्ड ड्रिंक और पानी की बोतलें मैदान पर ले जाते हुए देखा। दरअसल महेंद्र सिंह धोनी बांग्लादेश की पारी के दौरान मानवता की मिशाल पेश करते हुए खुद ही मैदान पर साथी खिलाड़ियों को कोल्ड ड्रिंक देने के लिए चल पड़े। बता दें कि बांग्लादेश के खिलाफ अभ्यास मैच में धोनी नहीं खेले थे उनकी जगह विकेट कीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक को खिलाया गया था। वहीं गत चैंपियन भारतीय क्रिकेट टीम ने मंगलवार को केनिंग्टन ओवल मैदान पर हुए चैंपियंस ट्रॉफी के अभ्यास मैच में बांग्लादेश को 240 रनों से करारी मात दे दी। दिनेश कार्तिक (94, रिटायर्ड आउट) और हार्दिक पांड्या (नाबाद 80) के शानदार प्रदर्शन के दम पर 324 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा करने के बाद भारत ने उमेश यादव (16/3) और भुवनेश्वर कुमार (13/3) की धारदार गेंदबाजी के बल पर बांग्लादेश की पारी 23.5 ओवरों में 84 रनों पर समेट दी।

HOT DEALS
  • Gionee X1 16GB Gold
    ₹ 8990 MRP ₹ 10349 -13%
    ₹1349 Cashback
  • Apple iPhone 6 32 GB Gold
    ₹ 25199 MRP ₹ 31900 -21%
    ₹3750 Cashback

दोनों छोरों से बेहद कसी हुई गेंदबाजी करते हुए उमेश और भुवनेश्वर ने 7.3 ओवरों में ही 22 के मामूली स्कोर पर बांग्लादेश के छह विकेट चटका डाले। दोनों ने पांच-पांच ओवर गेंदबाजी की। आठवें क्रम पर बल्लेबाजी करने उतरे मेहदी हसन मिराज (24) बांग्लादेश के सर्वोच्च स्कोरर रहे। मेहदी और सुंजामुल इस्लाम (18) के बीच आठवें विकेट के लिए हुई 30 रनों की साझेदारी बांग्लादेश की सबसे बड़ी साझेदारी रही। बांग्लादेश के चार खिलाड़ी जहां खाता भी नहीं खोल सके, वहीं सात बल्लेबाज दहाई तक भी नहीं पहुंच सके। उमेश, भुवनेश्वर के अलावा मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक और रविचंद्रन अश्विन को एक-एक विकेट मिला। टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने कप्तान विराट कोहली और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के बगैर ही निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट खोकर 324 रन बनाए। कोहली और धौनी बल्लेबाजी करने नहीं उतरे। कार्तिक और पांड्या के अलावा सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (60) ने भी अहम योगदान दिया।