ताज़ा खबर
 

मंदसौर जाते हुए राहुल गांधी ने खोया आपा…गाड़ी से उतरे, कुर्ते की आस्‍तीन चढ़ाई और पुलिस अफसर पर चिल्लाए- ऐ…

Mandsaur MP Farmers Kisan Andolan: राहुल गांधी के इस वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए एक यूजर ने लिखा- "एक तथाकथित बड़े नेता राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए कानून और कानून प्रवर्तनकर्ता का पूरी तरह से अनादार करते हुए दिख रहे हैं।

मंदसौर जा रहे राहुल गांधी को एमपी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। (Photo-Twitter/@INCIndia)

कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को मध्य प्रदेश में आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों के परिवार से मिलने मंदसौर के लिए रवाना हुए थे। हालांकि राहुल को मंदसौर जाने से पहले ही पुलिस ने नीमच में हिरासत में ले लिया है। हिरासत में लिए जाने से पहले राहुल गांधी मंदसौर में रोके जाने पर पुलिस अफसर पर गर्म हो गए थे। राहुल गांधी अपने आपा खोते हुए गाड़ी से बाहर निकले और पुलिसवाले पर चिल्लाए। राहुल गांधी ने पुलिस अधिकारी से कहा कि आप कैसे रोक सकते हो हमें। यह बोलते हुए राहुल गांधी ने पुलिस अफसर से गाड़ी के आगे से हटने के लिए भी कहा। सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो शेयर किया गया है। जिसके बाद लोगों ने राहुल गांधी पर निशाना साधा।

राहुल गांधी के इस वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए एक यूजर ने लिखा- “एक तथाकथित बड़े नेता राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए कानून और कानून प्रवर्तनकर्ता का पूरी तरह से अनादार करते हुए दिख रहे हैं। जो कि एक परिपक्व नेता होने का संकेत नहीं देता है।” एक अन्य यूजर ने लिखा- “कितनी शर्म की बात है, पुलिस अपना काम कर रही है और क्राउन प्रिंस को स्पेशल ट्रीटमेंट चाहिए।” वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा- “प्रशासन और पुलिस को शांति सुनिश्चित करने के लिए एहतियात उपाय लेने का अधिकार है।”

लोगों की ओर से आई प्रतिक्रिया का स्क्रीनशॉट। mandsaur टोल प्लाजा लूटा, थाना फूंका, गाड़ियां जलाई, फोटो पर क्लिक करके देखिए मध्य प्रदेश में हिंसा की तस्वीरें (PTI )

बता दें कि राहुल गांधी को हिरासत में लेने के बाद रिहा कर दिया गया है। एएनआई ने अपने सूत्रों के हवाले से बताया कि राहुल गांधी गोलीकांड में मारे गए किसानों के परिवारवालों से फोन पर बात करेंगे। यहीं नहीं सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी परिवार से मिले बिना नहीं लौटेंगे। राहुल गांधी ने बेल लेने से भी इनकार कर दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीड़ित परिवार से राहुल गांधी की मुलाकात मध्य प्रदेश-राजस्थान बॉर्डर के पास किसी जगह पर हो सकती है। करीब एक हफ्ते से अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों का प्रदर्शन मंगलवार को उग्र हो गया। पुलिस फायरिंग में 5 किसानों की मौत हो गई। जिसके बाद किसानों ने 100 से ज्यादा गाड़ियों में आग लगी दी थी।

 

किसान आंदोलन: आरएसएस नेता ने ही कर रखा है शिवराज सरकार की नाक में दम

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App