ताज़ा खबर
 

MP किसान आंदोलन: भीड़ को उकसाते दिखीं कांग्रेस MLA, पुलिस के सामने बोलीं- फूंक दो थाना

दिग्विजय ने अपने ट्वीट में लिखा- "मप्र के किसान आंदोलन की हिंसा के पीछे संघ समर्थित दो प्रतिस्पर्धी किसान संघटनों का विवाद है। भारतीय किसान संघ और भारतीय किसान मज़दूर संघ।"

Author नई दिल्ली | June 9, 2017 4:59 PM
भीड़ को उकसाते हुए कांग्रेस विधायक का वीडियो सोशल मीडिया पर आया। (Photo Source: Videogarb/Twitter)

किसान आंदोलन की आग में झुलस रहे मध्य प्रदेश में हालात बिगड़ते जा रहे हैं। मंगलवार को राज्य के मंदसौर में हुई पुलिस फायरिंग में 5 किसानों की मौत हो गई थी। ताजा जानकारी के मुताबिक मंदसौर हिंसा में एक और किसान की मौत की खबर आ रही है। इस मुद्दे को लेकर राजनीतिक पार्टियों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है। राज्य में सत्ताधारी बीजेपी जहां कांग्रेस पर उकसाने का आरोप लगा रही है। वहीं, विपक्षी पार्टी सरकार पर निशाना साध रही है। इस बीच एक वीडियो सामने आया है, इस वीडियो में कांग्रेस की एक महिला विधायक भीड़ को उकसाती हुई नजर आ रही हैं और थाने को फूंक देने की बात कह रही है।

ट्विटर पर विरोध प्रदर्शन का एक वीडियो पोस्ट किया गया है। वीडियो के कैप्शन में लिखा गया है- “थाने में आग लगा दो….” MP में भीड़ को उकसाती हुई करैरा से कांग्रेस विधायक शकुंतला खटीक।” वीडियो में भीड़ विरोध प्रदर्शन करती हुई दिख रही है। भीड़ कह रही है कि प्रशासन की गुंडागर्दी नहीं चलेगी। इस दौरान कांग्रेस की महिला विधायक शंकुतला खटीक अपने साथ मौजूद भीड़ से थाने को आग लगा देने की बात कही रही है। 11 सेकेंड के इस वीडियो में वह तीन बार “थाने में आग लगा दो” कहती हुई सुनाई दे रही है। इस दौरान एक पुलिस अधिकारी भी मौजूद हैं, जो भीड़ को समझाने का प्रयास कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भी कांग्रेस विधायक का यह वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा है कि यही है काँग्रेस का असली चरित्र।


वहीं, दूसरी ओर शकुंतला खटिक के अलावा एक और कांग्रेस नेता तथा रतलाम जिला परिषद के उपाध्यक्ष डीपी धाकड़ भी वीडियो में सामने आया है। जिसमें वह किसानों को हिंसा के लिए भड़काते दिख रहे हैं। वीडियो में धाकड़ठ किसानों से कह रहे हैं, “अगर एक भी गाड़ी आ जाए, तो उनमें आग लगा देना… हम देख लेंगे। कोई भी किंतु, परंतु, थाना-पुलिस कोई डरने की जरूरत नहीं है।” पुलिस ने इस संबंध में धाकड़ के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है।

वहीं, किसान आंदोलन को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्विटर पर आरएसएस और बीजेपी पर निशाना साधा है। दिग्विजय ने अपने ट्वीट में लिखा- “मप्र के किसान आंदोलन की हिंसा के पीछे संघ समर्थित दो प्रतिस्पर्धी किसान संघटनों का विवाद है। भारतीय किसान संघ और भारतीय किसान मज़दूर संघ।” उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा- “शिवराज और भाजपा कॉंग्रेस पर आरोप लगा रहे हैं। अब भाजपा किसानों और व्यापारियों को लड़ा रही है। किसान और व्यापारियों का सदियों पुराना संबंध है।”

किसान आंदोलन: आरएसएस नेता ने ही कर रखा है शिवराज सरकार की नाक में दम

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App