ताज़ा खबर
 

एमपी: गाय पर पेंट कर दिया बीजेपी का झंडा, हो रही किरकिरी

एक अन्य यूजर ने लिखा कि गाय को माता माना जाता है, लेकिन भाजपा वोटों के लिए मां को भी परेशान कर रही है। यह ईशनिंदा के समान है।

mp election 2018: सोशल मीडिया पर भाजपा की हो रही खूब आलोचना। (IMAGE SOURCE-TWITTER/Deep Haldar)

मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनावों के लिए चुनाव प्रचार चरम पर है। मध्य प्रदेश के शहर, गांव राजनैतिक पार्टियों के झंडों और प्रतीक चिन्हों से पटे पड़े हैं। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक तस्वीर दिखाई दे रही है, जिसमें एक गाय पर ही भाजपा का झंडा पेंट कर दिया गया है। हालांकि यह कोशिश भाजपा को फायदा पहुंचाने के बजाए नुकसान पहुंचाती ज्यादा दिखाई दे रही है। दरअसल लोगों ने इस तरह से गाय को पेंट करने के लिए भाजपा की आलोचना की है। सोशल मीडिया पर भी इसके लिए भाजपा को खूब आलोचना झेलनी पड़ रही है।

सोशल मीडिया पर एक यूजर ने इस तस्वीर पर टिप्पणी करते हुए लिखा कि इन लोगों ने चुनाव जीतने के लिए गौमाता पर भी पेंट कर उन पर अत्याचार किया है। वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा कि गाय को माता माना जाता है, लेकिन भाजपा वोटों के लिए मां को भी परेशान कर रही है। यह ईशनिंदा के समान है। वहीं कुछ यूजर्स ने इसे जानवरों के अधिकारों का उल्लंघन करार दिया और गौमाता की बेइज्जती बताया। कुछ लोगों ने गाय पर आर्टिफिशियल कलर्स के इस्तेमाल को पशु अत्याचार माना और भाजपा की कड़ी आलोचना की।

बता दें कि मध्य प्रदेश में पिछले 15 साल से सत्ता पर काबिज भाजपा को इस बार कांग्रेस से कड़ी टक्कर मिल रही है। कई सर्वे में दोनों पार्टियों के बीच कड़ी टक्कर की बात निकलकर सामने आयी है। यही वजह है कि दोनों पार्टियां अपने-अपने चुनाव प्रचार के बूते निर्णायक बढ़त लेने की कोशिश कर रही हैं। शनिवार को कांग्रेस ने मध्य प्रदेश में अपना घोषणा पत्र जारी किया। इस घोषणा पत्र में कांग्रेस पार्टी ने मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए कई बड़े-बड़े वादे किए हैं। इन्हीं वादों में राज्य की हर ग्राम पंचायत में गायों के लिए गौशाला का निर्माण और उनके इलाज की समुचित व्यवस्था का वादा भी शामिल है। इसके अलावा कांग्रेस ने राम पथ का विकास करने और नर्मदा नदी को बचाने का भी वादा किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App