ताज़ा खबर
 

परेश रावल ने पूछा- मीरा कुमार राष्ट्रपति लायक तो फिर कांग्रेस अध्यक्ष के लायक क्यों नहीं, जवाब मिला – वो गांधी नहीं हैं

एक यूजर ने लिखा कि, मैं तो सोच रहा हूं कि थोड़ा खीरा बो दूं खेत में...पता नहीं कब...खीरा से हीरा बनाने की मशीन आ जाए और में ट्विटर को खरीद लूं।
भाजपा सांसद एवं अभिनेता परेश रावल। (एक्सप्रेस फोटो)

सांसद और एक्टर परेश रावल ने कांग्रेस से सवाल करते हुए ट्वीट किया कि राष्ट्रपति पद के लिए योग्य उम्मीदवार मीरा कुमार, कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए योग्य क्यों नही हैं? बस ऐसे ही पूछ लिया!!! इसके बाद तो लोगों ने परेश रावल के इस ट्वीट पर रिप्लाई करने शुरू कर दिए। @gurjar__manu ने लिखा कि मीरा कुमार देश के राष्ट्रपति पद के काबिल थीं तो कांग्रेस के अध्यक्ष पद के लिए क्यों नहीं हो सकतीं। क्या अब वो दलित नहीं रहीं या दलित कांग्रेस अध्यक्ष पद के काबिल नहीं होता… या सिर्फ राहुल ही काबिल हैं? एक यूजर ने लिखा कि मीरा कुमार के पीछे गांधी सरनेम लगा हुआ नहीं है न इसलिए, कांग्रेस अध्यक्ष तो सिर्फ गांधी खानदान का अधिकार है। @SirRajpaalYadav नाम के यूजर ने लिखा, क्योंकि अध्यक्ष पद के लिए चुनाव नहीं वसीयत पढ़ी गई थी। बाबू भैया फौलोव करदो अब तो।

@Abhishek_Mshra ने लिखा कि, क्योंकि मीरा कुमार के नाम में गांधी नहीं लगा है। @SinghJyoti155 ने लिखा कि, कांग्रेस को मेहनतकश चाय बेचने वाला हीन लगता है और CD बेचने वाले पर गर्वान्वित महसूस करती हैं, यही है कांग्रेस की सोच। @ImViikram ने लिखा कि, नहीं उसके लिए तो कांग्रेस के राजकुमार मंदबुद्धि 47 वर्ष के युवा हैं ना। @princeofvoice1 राहुल गांधी की आलू से सोना बनाने की मशीन वाली बात पर लिखा कि, आज मैं सब्जी लेने गया और जैसे ही सब्जीवाले से बोला भईया 5 किलो आलू दे दो। उसने बड़ी उम्मीद से मेरी तरफ देखा और पूछा “भईया मशीन आ गई का?”

@Guljar51 ने लिखा कि, राहुल जी अध्यक्ष पद का चुनाव अकेले लड़ रहे हैं पर उम्मीद नहीं लगती जीत पाएंगे। @HardlineHindu ने लिखा कि, एक चायवाला प्रधानमंत्री बना तो कांग्रेस इतनी बेइज्जती कर रही है, यदि कोई मैला ढोने वाला बन जाए तो उसको तो ताने दे दे कर परेशान कर दें ये। @Mayankforbjp ने भी यही लिखा कि वो गांधी नहीं हैं। @pareshjoshij ने लिखा कि, मैं तो सोच रहा हूं कि थोड़ा खीरा बो दूं खेत में…पता नहीं कब…खीरा से हीरा बनाने की मशीन आ जाए और में ट्विटर को खरीद लूं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. N
    nishant
    Nov 23, 2017 at 8:07 pm
    चुनाव कार्यक्रम जारी किया गया है.जो भी चाहता है वो चुनाव लड़े.किसने रोका है?राष्ट्रपति के लिया भी हमने ही खड़ा किया था .परेश रावल ने तो उस समय भी विरोध किया था.अब किस मुंह से ये बात कर रहे है?
    (0)(0)
    Reply
    1. A
      Anand
      Nov 24, 2017 at 6:09 am
      Lagbgag saare bjp wale aise hi h. Khud ka thuka wapas chat te h... Jb vipaksh m the virodh aur satta m aaye to jis ka virodh kiya wahi kaam khud karenge..
      (0)(0)
      Reply
      1. A
        Anand
        Nov 24, 2017 at 6:13 am
        Paresh rawal g idhar udhar aur ulta sidha post karne ya tweet krne se accha h ki aap jis क्षेत्र se member of loksabha h waha ki logo ki samsya ko dhyan de.. adarash gram naam ki yojna thi koi.. to aap kitne gram m kitni baar gaye aur ja ke waha ki vyawastha dekhi aur sudharne ki kosis ki... Kabhi tweet aur post se fursat mile to wo kaam karo jiske liye aapko waha se chuna gaye ho.. mere hisab se janta ne aapko bjp jindabaad ya congress virodh ke liye ni chuna h. Modi g ki trh alochna karna to sikh liye bt modi g se bharat ke logo ke liye kaam krna ni sikha...
        (0)(0)
        Reply