scorecardresearch

मोहम्मद सलमान चिश्ती बोले – नूपुर शर्मा की गर्दन लाने वाले को दे दूंगा अपना घर, वायरल वीडियो पर भड़के लोग

इस तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी देने के बाद मोहम्मद सलमान चिश्ती पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

Salman Chisti| Salman Chisti Viral Video| Salman Chisti Nupur Sharma|
मोहम्मद सलमान चिश्ती (फोटो सोर्स – वायरल वीडियो/स्क्रीनग्रैब)

सूफी संत ख्वाजा गरीब नवाज की अजमेर की दरगाह के खादिम सलमान चिश्ती का एक विवादित वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा। उन्होंने पैगंबर मोहम्मद पर अपमानजनक टिप्पणी करने के बाद बीजेपी से निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के खिलाफ कहा कि उनका सर कलम कर के लाने वालों को अपना घर देंगे। सलमान चिश्ती के वायरल वीडियो पर सोशल मीडिया यूजर्स भड़क गए।

सलमान चिश्ती ने दिया यह बयान : वायरल वीडियो में सलमान चिश्ती नूपुर शर्मा को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए कह रहा है कि, ‘वक्त पहले जैसा नहीं रहा, वरना वह बोलता नहीं, कसम है मुझे पैदा करने वाली मेरी मां की, मैं उसे सरेआम गोली मार देता,  मुझे मेरे बच्चों की कसम, मैं उसे गोली मार देता और आज भी सीना ठोक कर कहता हूं, जो भी नुपुर शर्मा की गर्दन लाएगा, मैं उसे अपना घर दे दूंगा और रास्ते पर निकल जाऊंगा, ये वादा करता है सलमान।’

भड़के सोशल मीडिया यूजर्स : अंबुज नाम के एक सोशल मीडिया हैंडल से इस वीडियो को शेयर किया गया। वायरल वीडियो पर यूजर्स ने राजस्थान पुलिस से इस व्यक्ति पर कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं। पुनीत सिंह नाम के एक टि्वटर यूजर ने असदुद्दीन ओवैसी को टैग करते हुए सवाल किया है कि आप इस पर जवाब नहीं देंगे? आशीष नाम की एक यूजर ने कमेंट किया – इस तरह का आपत्तिजनक बयान देने के बाद अभी तक इस व्यक्ति को गिरफ्तार नहीं किया गया होगा क्योंकि कांग्रेस सरकार का संरक्षण मिल रहा होगा।

Also Read
राजस्थानः जयपुर में कन्हैयालाल के बहाने हिंदू संगठनों का शक्ति प्रदर्शन, सड़क पर उतर किया हनुमान चालीसा का पाठ

अजमेर में दर्ज हुआ केस : मोहम्मद चिश्ती का वीडियो वायरल होने के बाद अजमेर में उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अजमेर के एसएसपी विकास संगवान ने कहा कि इस वीडियो को लेकर पुलिस प्रशासन का रवैया सख्त है, वीडियो में सलमान चिश्ती नशे की हालत में नजर आ रहा। उसकी तलाश की जा रही है।

उदयपुर में हाल में ही टेलर की गई है हत्या : ज्ञानवापी मस्जिद के विषय पर एक टीवी चैनल पर हो रही डिबेट के दौरान बीजेपी से निकाली गईं नूपुर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया था। ऐसे में उदयपुर के कन्हैया लाल ने नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया था। जिसके बाद उनकी हत्या कर दी गई। गौरतलब है कि नूपुर शर्मा द्वारा दिए गए आपत्तिजनक बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने भी उन पर फटकार लगाई थी।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X