ताज़ा खबर
 

मोहम्मद कैफ ने पोस्ट की रिक्शा चलाती लड़की की फोटो, लिखा कुछ ऐसा कि जीता फैंस का दिल

कैफ ने अपने ट्वीट में यह भी लिखा है कि वह इस लड़की के जज्बे को झुककर सलाम करते हैं। कैफ के इस ट्वीट पर लोगों ने खूब प्रतिक्रिया दी और कुछ लोगों ने लगे हाथ आरक्षण का मुद्दा भी उठा दिया।

मोहम्मद कैफ (image source-Twitter)

पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं और समसामयिक मुद्दों पर अक्सर ट्वीट करते रहते हैं। एक बार फिर कैफ ने ऐसा ट्वीट किया है, जिसकी लोग काफी तारीफ कर रहे हैं। दरअसल कैफ ने एक रिक्शा चलाती हुई लड़की की तस्वीर ट्वीट की है और उसके साथ लिखा है कि ‘संकटो से घिरी हुई, पर हार नहीं मानी है, बाधाओं से लड़ रही, जीत फतह की ठानी है।।’ कैफ ने जिस तरह से इस लड़की की हिम्मत और हौंसले की दाद दी है, उसकी लोग काफी तारीफ कर रहे हैं। कैफ ने अपने ट्वीट में यह भी लिखा है कि वह इस लड़की के जज्बे को झुककर सलाम करते हैं। कैफ के इस ट्वीट पर लोगों ने खूब प्रतिक्रिया दी और कुछ लोगों ने लगे हाथ आरक्षण का मुद्दा भी उठा दिया। एक यूजर ने लिखा कि आरक्षण की सही में जरुरत इस बच्ची को है। मौजूदा आरक्षण व्यवस्था पर तंज कसते हुए इस यूजर ने यह भी लिखा कि ढोंगी गरीब, असली गरीब के दुश्मन हैं।

बता दें कि मोहम्मद कैफ इससे पहले भी कई ऐसे ट्वीट कर चुके हैं, जिन्हें लेकर कैफ को जहां तारीफ मिली, वहीं कुछ लोगों ने उन्हें ट्रोल भी किया। बीते साल कैफ ने कुलभूषण जाधव मामले में इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस का फैसला आने पर ट्वीट कर लिखा था कि भारत को बधाई। आईसीजे को बधाई। आखिर न्याय हुआ। कैफ के इस ट्वीट पर एक यूजर ने कैफ को ट्रोल करते हुए लिखा कि अपने नाम से मोहम्मद शब्द को हटा दो। इस पर करारा जवाब देते हुए कैफ ने लिखा कि कोई भी किसी धर्म का ठेकेदार नहीं है। कोई भी नाम किसी ठेकेदार का कॉपीराइट भी नहीं है। भारत सबसे समावेशी और टॉलरेंट देश है। कैफ के इस जवाब पर कई लोगों ने उनकी जबरदस्त तारीफ की और कैफ की बात से सहमति जतायी।

कैफ का एक और ट्वीट लोगों के बीच चर्चा का विषय बना था। साल 2016 में जब भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव काफी बढ़ गया था। तब कैफ ने ट्वीट कर कहा कि सभी जवानों की छुट्टियां रद्द हो गई हैं। अगर किसी बस या ट्रेन में आप जवानों को देखें तो अपनी सीट उन्हें ऑफर करें। कैफ के इस ट्वीट को लेकर भी लोगों ने उनकी बहुत सराहना की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App