ताज़ा खबर
 

सुरक्षाबलों के साथ कथित बदसलूकी का वीडियो सामने आने पर भड़के मोहम्मद कैफ, बोले- हमारे जवानों के संयम को कमजोरी न समझें

मोहम्मद कैफ ने ट्विटर पर लिखा- "सेना पर हुए हमले को लेकर व्यथित हूं। यह हमलावरों की बेवकूफी है कि वे सीआरपीएफ जवानों के संयम को उनकी कमजोरी समझ रहे हैं।"

पूर्व भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद कैफ।

कश्मीर में सीआरपीएफ जवानों के साथ कथित तौर पर कश्मीरियों द्वारा बदसलूकी किए जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। इसे लेकर लोगों की ओर से कश्मीरियों की निंदा की जा रही है। क्रिकेटर गौतभ गंभीर के बाद मोहम्मद कैफ ने सुरक्षाबलों के जवानों का समर्थन करते हुए अपने विचार ट्विटर के जरिए लोगों के सामने रखे। मोहम्मद कैफ ने ट्विटर पर लिखा- “सेना पर हुए हमले को लेकर व्यथित हूं। यह हमलावरों की बेवकूफी है कि वे सीआरपीएफ जवानों के संयम को उनकी कमजोरी समझ रहे हैं।” सुरक्षाबलों के इस वीडियो को लेकर कई क्रिकेटर और सेलिब्रेटी आलोचना कर चुके हैं। इससे पहले गौतम गंभीर ने भी घटना की आलोचना की थी। बता दें कि कैफ अक्सर अपने ट्वीट को लेकर चर्चा में रहते हैं।

गौतम गंभीर ने अपने ट्वीट में लिखा- सेना के जवान पर पड़ने वाला हर तमाचा 100 जिहादियों की जान के बराबर है। जो आजादी चाहते हैं वह मुल्क छोड़ दें। कश्मीर हमारा है। गंभीर ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि देश विरोधी लोग ये जान लें कि तिरंगे में केसरी रंग- हमारे क्रोध की आग, सफेद- जिहादियों के लिए कफन और हरा – आतंक के खिलाफ घृणा को दर्शाता है। गंभीर के इस बयान की देशवासियों ने जमकर सराहना की है।

बता दें कि हाल ही में कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुए हैं, जिसमें कश्मीरी लोग सेना के जवान को लात और थप्पड़ मारने के साथ गालियां देते नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही एक अन्य वीडियो में एक शख्स जवान के हेलमेट को लात मारता दिख रहा है। हमारे जवान कितने सहिष्णु है इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि कश्मीरी युवाओं का यह ग्रुप उनके साथ हिंसा कर रहा है और वह बंदूक लिए होने के बावजूद भी कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रहे हैं। वह चुपचाप वहां से निकलते जा रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार ये वीडियो बडगाम में 9 अप्रैल की घटना के हैं। जब जवान चुनावी ड्यूटी से वापस लौट रहे थे।

जम्मू-कश्मीर: शोपियां जिले में आतंकी हमला; 3 जवान शहीद, 1 महिला की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App