ताज़ा खबर
 

नोट बंद करके अगले दिन नरेंद्र मोदी ने खोए थे 3 लाख ट्विटर फॉलोअर्स, लेकिन एक दिन बाद हुआ 4.3 लाख का इजाफा

नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर की शाम कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ा फैसला बताते हुए इन नोटों को मंगलवार मध्यरात्री से ही बंद करने की बात कही थी और कहा था कि 500 और 2000 रुपए के नए नोट लाए जाएंगे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)

देशभर में 500 और 1000 रुपए के नोट को बैन करने की घोषणा के तुरंत बाद ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ट्विटर पर फैन फॉलोइंग में कमी आ गई। एक रिपोर्ट के मुताबिक, नोट बंद करने के एलान के एक दिन बाद पीएम मोदी के 3 लाख ट्विटर फॉलोअर्स कम हो गए। हालांकि उससे अगले दिन फॉलोअर्स की संख्या में 4 लाख से ज्यादा का इजाफा हुआ। नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर की शाम कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ा फैसला बताते हुए इन नोटों को मंगलवार मध्यरात्री से ही बंद करने की बात कही थी और कहा था कि 500 और 2000 रुपए के नए नोट लाए जाएंगे। उन्होंने कहा था कि लोग अपने पुराने नोट 30 दिसंबर तक पोस्ट ऑफिस या बैंक जाकर बदलवा सकते हैं।

माइक्रोब्लॉगिंग एनिलीटिकल वेबसाइट ट्विटर काउंटर नामक वेबसाइट के अनुसार इस दिन (9 नवंबर को) आश्चर्यजनक रूप से नरेंद्र मोदी के 3 लाख 13 हजार ट्विटर फॉलोअर्स ने उन्हें अनफॉलो कर दिया। दिलचस्प बात यह है कि इससे पहले तक नरेंद्र मोदी के ट्विटर फौलोअर्स में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा था, परंतु इस फैसले के बाद दर्ज की गई गिरावट बेहद हैरानीजनक है। हालांकि अगले ही दिन 10 नवंबर को पीएम मोदी के 4.3 लाख फोलोअर्स बढ़ गए। फॉलोअर्स की संख्या में यह उतार-चढ़ाव आने का सही कारण साफ नहीं हो पाया है। @narendramodi ट्विटर हैंडल का इस्तेमाल करने वाले प्रधानमंत्री मोदी के इस सोशल मीडिया वेबसाइट पर शुक्रवार (11 नवंबर) को 24 मिलियन (2.4 करोड़) से ज्यादा फॉलोअर्स हैं।

500 और 1000 रुपए के नोट बंद- मोदी सरकार के फैसले पर क्‍या सोचती है जनता

 

twitter-counter एनिलीटिकल वेबसाइट ट्विटर काउंटर का आंकड़ा।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री ने मंगलवार को राष्‍ट्र के नाम संबोधन में एलान किया था कि 9 नवंबर से 500 और 1000 रुपये के नोट कागज के टुकड़ों से अध्‍ािक कुछ नहीं होंगे। उन्‍होंने कहा था कि जिन लोगों के पास 500 और 1000 रुपये के नोट हैं वे लोग 10 नवंबर से 30 दिसंबर तक बैंक या पोस्‍ट ऑफिस में जमा कराए जा सकते हैं। 50 दिन का समय है, इसके लिए अफरातफरी करने की जरुरत नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.