scorecardresearch

अब पता चला कि बीजेपी पीछे नहीं, साथ खड़ी है- शिंदे और फडणवीस के बीच मुलाकात की खबर पर ऐसे कमेंट कर रहे हैं लोग

एकनाथ शिंदे ने शिवसेना के कई विधायकों के साथ पहले सूरत फिर वहां से गुवाहाटी चले गये। इन विधायकों ने शिवसेना से बगावत कर दी है और उद्धव सरकार के प्रति अपनी नाराज़गी जताई है।

Eknath Shinde II Shivsena II Sanjay Raut
शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस (फोटो सोर्स- ट्विटर/ @kamleshsutar)

महाराष्ट्र की राजनीति में जमकर बवाल मचा है। शिवसेना के कई बागी विधायक एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में असम गुवाहाटी के होटल में ठहरे हुए हैं जबकि मुंबई शिवसेना पार्टी के पदाधिकारी इनपर कार्रवाई करने की धमकी दे रहे हैं। वहीं भाजपा यह दिखा रही है कि वो बस वेट एंड वाच की भूमिका में है लेकिन अब खबर सामने आ रही है कि एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस के बीच गुप्त मुलाकात हुई है।

बताया जा रहा है कि 24-25 जून की रात एकनाथ शिंदे विमान से दिल्ली होते हुए वडोदरा पहुंचे थे जबकि देवेद्र फडणवीस मुंबई से इंदौर और इंदौर से वडोदरा पहुंचे थे। जहां दोनों की मुलाकात हुई है। खबर तो यह भी है कि इस दौरान गृहमंत्री अमित शाह भी गुजरात में ही थे। हालांकि इसकी अभी तक पुष्टि नहीं हो पाई है।

सोशल मीडिया पर इस मुलाकात पर तमाम तरह की चर्चाएं हो रही हैं। पत्रकार कमलेश सुतार ने एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस की तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा कि “शुक्रवार की मध्यरात्रि और सुबह के बीच देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे ने बड़ोदरा का दौरा किया। संयोग से केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी कल बड़ोदरा में ही थे। (हालांकि शेयर की गई तस्वीर पुरानी है)”

पत्रकार मिलिंद खांडेकर ने लिखा कि “बीजेपी कह रही थी कि शिवसेना में बग़ावत के पीछे हम नहीं है। अब पता चला कि बीजेपी पीछे नहीं, साथ खड़ी है। कल आधी रात के बाद वडोदरा में देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के मिलने की ख़बर है।” विशाल अग्रवाल ने लिखा कि ‘वास्तव में ऐसा लग रहा है कि हम कोई वेब सीरीज फिल्म की शूटिंग देखने-समझने का अनुभव कर रहें हो क्लाईमेक्स अभी बाकी है।’

एक यूजर ने लिखा कि ‘भाजपा ने शिवसेना को ख़त्म करने के लिए हज़ारों करोड़ रुपया का दांव पर लगाया है। यह सब पैसा सरकारी नौकरी ख़त्म करके और महंगाई को आसमान छू कर इकट्ठा किया हुआ पैसा है।’ संजय नाम के यूजर ने लिखा कि ‘हर कोई जानता है कि आज कौन इतने बड़े ऑपरेशन की साजिश रच सकता है, इंजीनियर बना सकता है और उसे अंजाम दे सकता है।’

बता दें कि एकनाथ शिंदे शिवसेना के कई विधायकों के साथ पहले सूरत फिर वहां से गुवाहाटी चले गये। इन विधायकों ने शिवसेना से बगावत कर दी है और उद्धव सरकार के प्रति अपनी नाराज़गी जताई है। उद्धव ठाकरे द्वारा कई बार इन नाराज विधायकों को मनाने की कोशिश की गई लेकिन बात बन नहीं पाई है। हालांकि जो बीजेपी अभी तक सिर्फ यह कह रही थी कि इस विवाद में हमारी कोई भूमिका नहीं है, उसी बीजेपी के नेता देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे की मुलाकात की खबर सामने आ रही है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X