ताज़ा खबर
 

यूपी: भारत बंद में बवाल करने वालों को थाने में मिला ‘प्रसाद’, वायरल हो रहा यह VIDEO

मेरठ के कंकरखेड़ा थाने में एक चौकी को आग लगा दिया गया। इसी दौरान पुलिस ने कुछ युवकों हिरासत में लिया था। वीडियो से दिख रहा है कि पुलिस ने इन युवकों को जमकर पीटा।
वाराणसी में 2 अप्रैल 2018 को भारत बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों पर लाठियां बरसाती पुलिस (फोटो- पीटीआई)

भारत बंद से जुड़ा एक वीडियो वायरल हो रहा है। ये वीडियो मेरठ के एक थाने का है। इस वीडियो में कुछ युवक थाने से निकलकर भागते दिख रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक इन युवको मेरठ पुलिस ने बंद के दौरान हंगामा मचाते और बवाल करते हुए हिरासत में लिया था। ये वीडियो कंकरखेड़ा थाने का है। वीडियो में साफ दिख रहा है कि लोग थाने से दौड़कर कराहते हुए भाग रहे हैं। कुछ चीख रहा है तो कोई लंगड़ाते हुए भाग रहा है।

बता दें कि 2 अप्रैल को एससी एसटी कानून में बदलाव के विरोध में भारत बंद का आयोजन किया गया था। इस दौरान मेरठ में जमकर बवाल हुआ। मेरठ के कंकरखेड़ा थाने में एक चौकी को आग लगा दिया गया। इसी दौरान पुलिस ने कुछ युवकों हिरासत में लिया था। वीडियो से दिख रहा है कि पुलिस ने इन युवकों को जमकर पीटा। वीडियो में कुछ लोग थाने के बाहर भागते युवकों की मोबाइल से रिकॉर्डिंग कर रहे हैं। ये वीडियो सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है। अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर इस वीडियो को हजारों बार देखा और शेयर किया गया है।

इस बीच यूपी पुलिस ने बंद के दौरान हंगामा करने वाले कई लोगों को चिह्नित कर लिया है। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि प्रदेश में 125 से अधिक मुकदमे दर्ज किये गये हैं और 500 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि प्रदर्शन के दौरान वीडियो, सीसीटीवी और तस्वीरों के जरिए उपद्रवियों की पहचान हो रही है। वहीं साजिश करने वालों की कुंडली भी खंगाली जा रही है। संपत्ति के नुकसान की भरपाई इन्हीं उपद्रवियों से कराई जाएगी। उप्र के उप पुलिस महानिरीक्षक (कानून व्यवस्था) प्रवीण कुमार के मुताबिक बलवा कराने के साजिशकर्ताओं की तलाश तेज कर दी गई है। इनमें से अधिकांश चिह्नित कर लिए गए हैं। एहतियातन सभी जिलों को सतर्क कर दिया गया है। लगातार नजर रखी गई है। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) खुद पूरे प्रदेश पर नजर रखे हुए हैं। पुलिस के मुताबिक सोमवार (2  अप्रैल) को हुआ प्रदर्शन मेरठ, हापुड़, मुजफ्फरनगर सहित पश्चिमी जिलों में अधिक उग्र रहा। इन जिलों में विशेष सतर्कता बरती जा रही है। जिलों को स्थानीय खुफिया दस्तों को सक्रिय रखने के निर्देश दिए गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App