ताज़ा खबर
 

MCD चुनाव नतीजे: AAP की हार के बाद उड़ रहा अरविंद केजरीवाल का मजाक, ट्रेंड निकला- ‘आप साफ’

सिसोदिया ने कहा कि उन्‍हें बीजेपी की जीत पर यकीन नहीं क्‍योंकि कूड़ा फैलाने वाली पार्टी जीत नहीं सकती।

Author Updated: April 26, 2017 2:17 PM
एमसीडी चुनावों में हार के बाद ट्विटर पर ‘आप’ का इस तरह मजाक उड़ रहा है। (Source: Twitter)

विधानसभा चुनावों का ‘सेमीफाइनल’ कहे जा रहे दिल्‍ली नगर निगम के चुनाव में बीजेपी जीत की तरह बढ़ती दिख रही है। खबर लिखे जाने तक आए रुझानों में बीजेपी 270 में से 180 वार्ड में आगे चल रही थी। अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी दूसरे नंबर पर है और कांग्रेस तीसरे नंबर पर चली गई है। ‘आप’ की हार के बाद उसके नेताओं ने ईवीएम पर सवाल खड़े किए। डिप्‍टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया है, ”बीजेपी ने 2009 का चुनाव हारने के बाद 5 साल ईवीएम पर रिसर्च कर महारत हासिल की और आज उसी रिसर्च और महारत के दम पर चुनाव जीत रही है। बीजेपी ने ईवीएम पर सिर्फ रिसर्च नहीं की बल्कि इनके नेता जीबीएल नरसिंहाराव व आडवाणी जी ने किताब भी लिखी, इनके नेता सुप्रीम कोर्ट भी गए थे। ईवीएम टेम्परिंग देश के लोकतंत्र की ऐसी कड़वी सच्चाई है जिसका शुरू में मज़ाक उड़ सकता है। लेकिन मज़ाक के डर से हम सच बोलना नहीं छोड़ सकते।” सिसोदिया ने कहा कि उन्‍हें बीजेपी की जीत पर यकीन नहीं क्‍योंकि कूड़ा फैलाने वाली पार्टी जीत नहीं सकती।

स्‍वराज इंडिया के अध्‍यक्ष योगेन्‍द्र यादव ने बीजेपी को जीत की बधाई दी और कहा कि ‘ईवीएम पर सवाल खड़े करना ठीक नहीं है।’ कांग्रेस के दिल्‍ली प्रमुख अजय माकन ने हार की नैतिक जिम्‍मेदारी लेते हुए पद से इस्‍तीफा दे दिया है। माकन ने कहा कि वह अगले एक साल तक पार्टी का कोई भी पद नहीं लेंगे और पार्टी कार्यकर्ता की तरह कार्य करेंगे। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने वापसी की है लेकिन उन्हें और बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी।

नगर निगम चुनावों में आम आदमी पार्टी की हार के बाद सोशल मीडिया पर पार्टी व इसके मुखिया अरविंद केजरीवाल का मजाक उड़ रहा है। पार्टी ने जिस तरह से ईवीएम में गड़बड़ी के मुद्दे पर आंदोलन जैसी कवायद छेड़ी, हार के चलते उसी कवायद को ट्विटर पर ट्रोल किया जा रहा है। #आप_साफ़ हैशटैग बुधवार (26 अप्रैल) की सुबह रुझान आने के बाद से ही ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है। धीरज मलिक ने कहा, ”आज दिल्ली वालो ने #आप_साफ करके बता दिया है कि काठ की हांडी 1 बार ही चढ़ती है।” अभिषेक तिवारी ने लिखा, ”याद रखिये, जनता सिर्फ़ एक बार ही इमोशनल ड्रामा बर्दाश्त करती है। लोगो को लोकतंत्र में जगह बताने में जनता बिलकुल देर नहीं करती।”

देखें नगर निगम चुनाव के नतीजों पर लोगों की प्रतिक्रियाएं:

Next Stories
1 इस तस्वीर में छिपा हुआ है सांप, ढूंढकर दिखाओ तो जानें
2 कन्‍हैया कुमार और अन्‍य छात्रों की तस्‍वीर लगा कर क‍िया झूठा दावा- जवानों के कत्‍ल पर जेएनयू में जश्‍न मनाते हैं वामपंथी
3 Cassini Spacecraft ने शनि के सबसे बड़े उपग्रह टाइटन के लिए भरी अंतिम उड़ान, गूगल ने Doodle बनाकर किया सेलिब्रेट