ताज़ा खबर
 

पत्रकार रोहित सरदाना के सिर पर मौलवी ने रखा 1 करोड़ का इनाम

मौलवी ने ऐलान किया है कि जो कोई भी पत्रकार रोहित सरदाना का सिर काटकर लाएगा उसे एक करोड़ रुपए इनाम में दिए जाएंगे।

पत्रकार रोहित सरदाना और सिर काटने वाले को 1 करोड़ रुपए देने वाले मौलवी (फोटोः फेसबुक)

टीवी पत्रकार रोहित सरदाना की मुश्किलें कम होने के बजाय लगातार बढ़ती ही जा रही हैं। अब एक मौलवी ने सरदाना का सिर काटकर लाने वाले शख्स को 1 करोड़ रुपए देने का ऐलान किया है। सोशल मीडिया पर इस वक्त एक मौलवी के स्पीच का एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है, जिसमें वे ये कहते दिखाई दे रहे हैं कि, ‘जो कोई भी पत्रकार रोहित सरदाना का सिर काटकर लाएगा मैं उसे एक करोड़ इनाम दूंगा।’ उन्होंने कहा, ‘एक एंकर है ना रोहित सरदाना नाम से, उसने शहजादी की तोहीन की है। वो हमे गूंगा समझ रहा है। हम खुमैनी के मानने वाले हैं। जैसे इमाम खुमैनी ने ऐलान किया था कि जो सलमान रुश्दी का सिर लाएगा उसे पैसे देंगे। वैसे ही आज मैं ये कह रहा हूं कि जो सरदाना का सिर लाएगा उसे मैं एक करोड़ दूंगा। अपनी कॉम के सात करोड़ लोग हैं यहां, अगर हम जनाब-ए-सैय्यदा के नाम पर एक रुपए मांगे तो लोग नहीं देंगे क्या?’

मौलाना ने आगे कहा, ‘मीडिया इस बात को सुन ले, हम ऐलान कर रहे हैं, शिया समुदाय यह ऐलान कर रहा है कि जिसने शहजादी के लिए ऐसे शब्द इस्तेमाल किए हैं, खुदा उस पर लानत करे और अपने आपको वह शख्स अक्लमंद ना समझे और इस कॉम को खामौश ना समझे, ये गूंगों की कॉम नहीं है। हमारे यहां जब कोई बोलता है तो दूर तक की सोचता है। ऐसे लोगों का मुंह बंद करना बहुत जरूरी है। वरना आज इसकी हिम्मत हुई है पता नहीं कल क्या बोल दे… लाइए आप, लाकर दीजिए उस एंकर का सिर, एक करोड़ रुपए हमारी कॉम देगी… मैं कह रहा हूं… ऐलान कर रहा हूं मैं’

बता दें कि पत्रकार रोहित सरदाना ने मलयाली फिल्म ‘सेक्सी दुर्गा’ के नाम पर अपने विचार रखते हुए कुछ दिनों पहले एक ट्वीट किया था और पूछा था, ‘अभिव्यक्ति की आजादी का मतलब फिल्मों के नाम सेक्सी दुर्गा, सेक्सी राधा रखने में ही है क्या? क्या आपने कभी सेक्सी फातिमा, सेक्सी आएशा या सेक्सी मेरी जैसे नाम सुने हैं फिल्मों के?’ उनके इस ट्वीट को अपमानजनक बताते हुए शिया संप्रदाय के कुछ लोगों ने उनके खिलाफ हैदराबाद के दबीरपुरा पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत के आधार पर सरदाना के खिलाफ आईपीसी की धारा 295-ए के तहत केस भी दर्ज किया गया था। इसके अलावा हैदराबाद में पुरानी हवेली इलाके में भी सरदाना के खिलाफ सड़कों पर भारी संख्या में मुस्लिम और ईसाई धर्म के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस कमिश्नर के दफ्तर के बाहर विरोध जताया और नारेबाजी की। पत्रकार की गिरफ्तारी की मांग करते हुए लोगों ने आरोप लगाया कि उनके ट्वीट्स ईशनिंदा करने वाले हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App