scorecardresearch

सरकार गाड़ी में कुत्ता घुमा रहे थे SDM, पत्रकार ने ली फ़ोटो तो हाथ पकड़ भिड़ गए

मथुरा के सहायक नगर आयुक्त का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वह पत्रकार के साथ बहस करते नजर आ रहे हैं!

सरकार गाड़ी में कुत्ता घुमा रहे थे SDM, पत्रकार ने ली फ़ोटो तो हाथ पकड़ भिड़ गए
अधिकारी और पत्रकार के बीच हुई बहस (फोटो सोर्स- वायरल वीडियो/स्क्रीनग्रैब)

उत्तर प्रदेश के मथुरा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें एक अधिकारी एक पत्रकार से बहस करते हुए दिखाई दे रहे हैं। बताया जा रहा है कि पत्रकार ने अधिकारी के सरकारी गाड़ी में बैठे कुत्ते की तस्वीर खींच ली थी, यही वजह से कि वह पत्रकार पर भड़क गए और पुलिस में शिकायत दर्ज करवाने की बात कह डाली। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल है और अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग हो रही है!

मथुरा के सहायक नगर आयुक्त हैं अधिकारी!

बताया जा रहा है कि मथुरा सहायक नगर आयुक्त के पद कार्यरत अधिकारी सरकारी गाड़ी में कुत्ते के साथ घूम रहे थे। एक पत्रकार ने इसकी तस्वीर क्लिक कर ली। पत्रकार द्वारा तस्वीर क्लिक किये जाने के बाद वह भड़क गए और पत्रकार का हाथ पकड़कर पूछताछ/ बहस करते नजर आये। इतना ही नहीं, वीडियो में सुनाई दे रहा है कि वह पुलिस को बुलाने की भी बात करते नजर आ रहे हैं। खबरों के अनुसार अधिकारी ने अपना नाम राजकुमार मित्तल बताया है।

वायरल वीडियो पर लोगों ने ऐसा कसा तंज

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ तो यूजर्स भी अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। @ श्याम त्यागी नाम के यूजर ने लिखा कि इतना बड़ा गुनाह कोई पत्रकार कैसे कर सकता है। @PrabhashTweets यूजर ने लिखा कि अब क्या साहेब की सरकारी गाड़ी से कुत्ता सैर नहीं कर सकता है। अरे वह साहेब का कुत्ता है कोई गली का आवारा कुत्ता नहीं जो डर जाए, वह सरकारी गाड़ी से टहलेगा भी और सरकारी कुर्सी पर बैठेगा भी।

@JournalistSan11 यूजर ने लिखा कि खुद को एसडीएम बताने वाले साहब को कोई बताओ कि गलती होने के बाद उसे स्वीकार किया जाता है, नाकि तानाशाही की जाती है। @SGupta71534952 यूजर ने लिखा कि पहले तो ये बताया जाए कि क्या केवल पत्रकार ही फोटो खींच सकता है, आम जनता नहीं? एसडीएम साहब को सैलरी भी जनता के टैक्स से मिलती है तो कोई भी फोटो खींचे उनको ऐतराज नहीं होना चाहिए।

बता दें कि खुद SDM बताने वाले अधिकारी की शिकायत मथुरा डीएम से भी की गई है। पत्रकारों ने डीएम ऑफिस के बाहर एकत्रित होकर अपना विरोध भी जताया है। मिली जानकारी के मुताबिक DM ने पूरे मामले का संज्ञान लेते हुए जिला स्तरीय 2 अधिकारियों की जांच कमेटी बनाकर रिपोर्ट मांगी है। हालांकि वायरल हो रहे वीडियो में दिखाई दे रहे अधिकारी ने कहा है कि वो कुत्ते को डॉक्टर के पास लेकर गए थे, उन्होंने यह भी बताया कि वह गाड़ी के पैसे भी देते हैं!

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 01-10-2022 at 05:06:35 pm
अपडेट