ताज़ा खबर
 

शख्‍स ने पूछा- बाली जाना सेफ है क्‍या? सुषमा स्‍वराज का जवाब- मुझे ज्‍वालामुखी से बात करनी पड़ेगी

एक शख्स ने उन्हें ट्वीट सुषमा स्वराज से पूछा कि बाली जाना सेफ है क्या? इस पर उन्होंने जवाब दिया कि मुझे ज्वालामुखी से बात करनी पड़ेगी।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज हमेशा सोशल नेटवर्किंग साइट ट्वीटर पर काफी एक्टिव रहती हैं। सऊदी अरब में फंसे लोग हों या अमेरिका में, अक्सर लोग उन्हें ट्वीट कर सहायता मांगते हैं। लेकिन कभी कभी कुछ लोग बेवजह के भी सवाल पूछने शुरू कर देते हैं। एक ऐसा ही मामला सामने आया है। एक शख्स ने उन्हें ट्वीट कर पूछा कि बाली जाना सेफ है क्या? इस पर उन्होंने जवाब दिया कि मुझे ज्वालामुखी से बात करनी पड़ेगी। सुशील कुमार राय नाम के एक शख्स ने सुषमा स्वराज को ट्वीट किया कि, “क्या बाली जाना सेफ होगा? हमलोगों ने 11 अगस्त से 18 अगस्त तक का बाली के लिए एक ट्रिप बनाया है। क्या यह सुरक्षित है? क्या हमारी सरकार द्वारा किसी तहर की एडवाइजरी जारी की गई है? कृप्या जल्द ही हमारा मार्गदर्शन करें।” इस शख्स के ट्वीट पर सुषमा स्वराज ने भी कुछ उसी अंदाज में जवाब दिया। उन्होंने लिखा कि, “मुझे वहां ज्वालामुखी से चर्चा करनी होगी।”

सुषमा स्वराज के इस जवाब पर लोगों ने कई तरह की प्रतिक्रिया दी है। एक युवक ने लिखा कि, “यह किस तरह का जवाब है। सुशील कुमार राज ने विदेश मंत्रालय से यह पूछा कि बाली जाने वाले यात्रियों के लिए किसी तरह की एडवाइजरी जारी की गई है? अधिकांश देशों ने ज्वालामुखी की वजह से एडवाइजरी जारी की है।”

 

वहीं, एक अन्य ने सुशील कुमार पर तंज करते हुए लिखा कि, “क्या आपने विदेश मंत्री को को मौसम चेक करने वाला समझ रखा है। क्या वह अापकी ट्रेवल एजेंट है? आप एक उत्तरदायी मंत्री से अनुचित लाभ उठा रहे हैं। ” एक अन्य ने लिखा कि सुषमा जी, मुझे लगता है कि यह सवाल भारत सरकार द्वारा बाली जाने वाले यात्रियों के लिए किसी तरह की एडवाइजरी जारी की गई है या नहीं?, यह जानने के लिए पूछा गया था। दरअसल, माउंट आगुंग ज्वालामुखी विस्फोट की वजह से बाली हवाई अड्डे को 28 जून को बंद कर दिया गया था। इस वजह से वहां से उड़ान भरने वाली कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय विमानों को रद कर दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App