scorecardresearch

10 मार्च को बजेगा गाना- चल सन्यासी मंदिर में…ओपी राजभर ने यूं उड़ाया CM योगी का मजाक

समाजवादी पार्टी के सहयोगी ओपी राजभर ने सीएम योगी का मजाक उड़ाते हुए कहा है कि 10 मार्च को गाना बजेगा ‘चल सन्यासी मंदिर में’।

OP Rajbhar Photo, OP Rajbhar Yogi Photo
सुभासपा पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर (फोटो सोर्स – पीटीआई)

उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनावी मैदान में उतरने के लिए सभी पार्टियां तैयार हैं। 10 फरवरी को पहले चरण का मतदान होने वाला है। पूरा विपक्ष इस बात का दावा कर रहा है कि योगी आदित्यनाथ 10 मार्च को सीएम हाउस से गोरखपुर जाने के लिए अपना सामान पैक करने वाले हैं। बीजेपी छोड़ सपा में आए स्वामी प्रसाद मौर्य का कहना है कि जब तक वे बीजेपी को सत्ता से उखाड़ कर फेंक नहीं देते, तब तक वे चैन से नहीं बैठेंगे। वहीं ओपी राजभर ने भी योगी आदित्यनाथ का मजाक उड़ाते हुए कहा है कि 10 मार्च को एक ही गाना बजेगा!

दरअसल न्यूज़ 24 को दिए गए इंटरव्यू में ओपी राजभर ने कहा कि पहला बार, उत्तर प्रदेश की राजनीति में मैं ऐसा नेता रहा जो कैबिनेट मंत्री से इस्तीफ़ा दे दिया और बीजेपी का साथ देने से इंकार दिया। राजभर ने कहा कि मंत्री पद से इस्तीफ़ा देने के साथ ही प्रण कर लिया कि जब तक बीजेपी को सत्ता से बाहर नहीं कर दूंगा, तब चैन से नहीं बैठूंगा।

इस पर जब ओपी राजभर से पूछा गया कि स्वामी प्रसाद मौर्य भी ऐसा ही दावा कर रहे हैं, उन्होंने भी बीजेपी को सत्ता से हटाने के लिए प्रण लिया है? इस पर ओपी राजभर ने कहा कि स्वामी प्राद मौर्य, दारा सिंह चौहान, धर्मसिंह सैनी और ओपी राजभर हम लोग जब बसपा में थे तब बसपा की सरकार बनी और अब बसपा की कहां है? हम बीजेपी में गए, बीजेपी की सरकार बनी और अब सपा में हैं तो सपा की सरकार बनेगी और बीजेपी की विदाई होगी।

आपके कार्यालय के बाहर भीड़ बहुत है टिकट पाने के लिए, आप कैसे टिकट देते हैं? इस पर हंसते हुए ओपी राजभर ने कहा कि जिस पार्टी में टिकट के लिए भीड़ ना हो वो पार्टी सरकार क्या बनाएगी। टिकट देने का हमारा फार्मूला है। विधानसभा में जितने दावेदार होते हैं, सभी को बुलाकर, बैठकर बात करते हैं। जिसपर सहमति बनती है, उसको टिकट देते हैं।

इसके बाद जब पत्रकार ने पूछा कि क्या आप टिकट देते वक्त प्रत्याशी के पास कितना पैसा है, ये भी देखते हैं?  इस पर ओपी राजभर ने कहा कि नहीं, हम सब ये नहीं देखते हैं। ओपी राजभर ने कहा कि हां एक बात और कहना चाहता हूं कि 10 मार्च को 10 बजे गाना बजेगा कि ‘चल सन्यासी मंदिर में…।’

बता दें कि ओपी राजभर पहले बसपा में थे, फिर अपनी पार्टी बनाई और 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था। योगी सरकार में उन्हें मंत्री भी बनाया गया था लेकिन उन्होंने बीच कार्यकाल में ही मंत्री पद छोड़कर बीजेपी के खिलाफ हुंकार भरने लगे। 2022 के विधानसभा चुनाव में ओपी राजभर की पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर लिया है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट