Mahendra Singh Dhoni cried after winning the 2011 World Cup final against sri lanka - 7 साल बाद धोनी का खुलासा- 2011 वर्ल्डकप के फाइनल में विनिंग सिक्स मारने के बाद रो पड़ा था - Jansatta
ताज़ा खबर
 

7 साल बाद धोनी का खुलासा- 2011 वर्ल्डकप फाइनल में विनिंग सिक्स मारने के बाद रो पड़ा था

सात साल बाद धोनी ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया है कि विनिंग शॉट मारने के बाद उनकी आंखों में आंसू आ गए थे और वे खुशी के आंसू थे।

पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (एक्सप्रेस फोटो)

2 अप्रैल 2011 की बात जब भी की जाती है, हर भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा हो जाता है। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में हुआ भी कुछ ऐसा था जिसे हर भारतीय बार-बार याद करना चाहता है। टीम इंडिया ने 28 साल बाद वर्ल्डकप पर कब्जा किया था। भारत की नीली जर्सी पहने हर क्रिकेटर की आंखों में उस वक्त आंसू आ गए थे जब मैदान में पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने विनिंग शॉट मारकर भारत को विश्व विजेता बनाया था। श्रीलंका को 6 विकेट से हराने के बाद भारत ने विश्वकप पर कब्जा किया था। वो ऐतिहासिक दिन हर किसी को याद है। उस दिन को लेकर एमएस धोनी ने बड़ा खुलासा किया है।

सात साल बाद धोनी ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया है कि विनिंग शॉट मारने के बाद उनकी आंखों में आंसू आ गए थे और वे खुशी के आंसू थे। किसी कैमरे ने धोनी की आंखों में मौजूद आंसुओं को कैद नहीं किया, लेकिन पूर्व कप्तान उस वक्त इतने भावुक हो गए थे कि वे रो पड़े थे। वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई की किताब ‘डेमोक्रेसी- XI’ में धोनी ने इस बात का खुलासा किया है।

276 रनों का पीछा करने मैदान पर उतरी टीम इंडिया ने जब धोनी के विनिंग सिक्स की बदौलत मैच जीता तब हर कोई खुशी से झूम उठा था, लेकिन पूर्व कप्तान की आंखों में आंसू थे, खुशी के आंसू थे। ‘डेमोक्रेसी- XI’ में धोनी ने खुद इस बात को स्वीकार किया है कि जब उन्होंने विनिंग शॉट मारा था, उस वक्त स्पिनर हरभजन सिंह ने खुशी से उन्हें गले लगाया था, लेकिन किसी को ये नहीं पता था कि धोनी की आंखों में उस वक्त आंसू थे। राजदीप सरदेसाई की किताब में धोनी ने कहा, ‘हां, मैं रोया था, लेकिन कैमरे में ये सब कैद नहीं हुआ। मैं काफी भावुक हो गया था और जैसे ही आंखों में खुशी के आंसू भरकर हरभजन सिंह ने मुझे गले लगाया मेरी आंखों में भी आंसू आ गए, लेकिन मैंने अपना सिर नीचे कर लिया ताकि किसी को मेरा रोना ना दिखाई दे।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App