scorecardresearch

मंत्री आये तो क्या हमारे कपड़े फेंक दोगे?- कमरे में घुसे कर्मचारी तो भड़क गईं महिला सांसद, जमकर लगाई फटकार

भाजपा की राज्यसभा सांसद सुमित्रा वाल्मीकि का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वह सर्किट हाउस के केयरटेकर पर नाराज होती दिखाई दे रही हैं।

Shivraj Singh Chauhan| Shivraj SON| Shivraj Photo Today|
एमपी सीएम शिवराज सिंह चौहान (File Photo)

भाजपा की राज्यसभा सांसद सुमित्रा वाल्मीकि मध्य प्रदेश के सागर में पार्टी के प्रचार के लिए पहुंची थी। वह सर्किट हाउस में ठहरी हुई थीं। प्रचार-प्रसार कर जब वह वापस सर्किट हाउस पहुंची तो उन्होंने पाया कि उनका सारा सामान कमरे से बाहर पड़ा है। यह देखकर भाजपा सांसद भड़क गईं और सर्किट हाउस के कर्मचारी को जमकर खरी खोटी सुनाई। 

मध्य प्रदेश के सर्किट हाउस में हुआ बवाल: सुमित्रा वाल्मीकि का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वह सर्किट हाउस के केयरटेकर पर नाराज होती दिखाई दे रही हैं। सुमित्रा बाल्मीकि पूछ रही हैं कि किसके कहने पर मेरा सामन हटाया? मेरे कपड़े भी थे वहां? यहां कोई महिला है? मैने भोपाल शिकायत कर दी है। मंत्री आये तो इसका मतलब थोड़ी है कि हमारे कमरे में घुसो, सामान निकालो।’

मेरे कमरे में कैसे कोई दाखिल हो गया?’: सुमित्रा वाल्मीकि को जवाब देते हुए केयरटेकर ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार के कोई कैबिनेट मंत्री आए थे, वीआईपी कमरा उनके लिए चाहिए थे, इसलिए उनका सामान दूसरे कमरे में शिफ्ट कर दिया गया। सुमित्रा ने कहा कि यहां कोई महिला कर्मचारी नहीं है, कैसे कोई एक महिला के कमरे में दाखिल हो गया। वह इसे अपना अपमान बताते हुए नाराज हो गईं। 

सुमित्रा इसी पर नहीं रुकीं, उन्होंने कहा कि मंत्री जी आ रहे थे तो मुझे यहां बुलाया ही किस लिए था? मेरी बेइज्जती करने के लिए बुलाया था? हालांकि इस घटना के बाद कांग्रेस को भाजपा को घेरने का एक मौका मिला गया। कांग्रेस ने इसे महिला का अपमान बताया है।

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा कि ‘अनुसूचित जाति की सांसद का अपमान, महिला सांसद की ग़ैरमौजूदगी में मंत्री के लिये गेस्ट हाउस ख़ाली किया, सामान उठाकर फेंका गया। शिवराज जी, ये एक महिला सांसद का नहीं, प्रदेश की हर बेटी का अपमान है। प्रदेश की जनता बीजेपी के इस अहंकार का जवाब जरूर देगी। “बीजेपी हटाओ, मध्यप्रदेश बचाओ”। हालांकि सुमित्रा वाल्मीकि ने कहा कि इसे कांग्रेस मुद्दा ना बनाए। मैंने उस कर्मचारी को माफ़ कर दिया है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X