ताज़ा खबर
 

लखनऊ की इस लड़की के ट्वीट से मचा ‘भूचाल’, छिड़ी हिंदू-मुस्लिम पर जबरदस्त बहस

सोशल मीडिया पर कई लोगों ने पूजा की कट्टरवादी सोच के लिए उन्हें जमकर लताड़ा। बता दें कि पूजा को पूर्व कांग्रेसी नेता शहजाद जय हिंद, भाजपा एमपी उदित राज, और शिरोमणि अकाली दल के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा जैसे लोग फॉलो करते हैं।

लखनऊ में एक ट्वीट से छिड़ी हिंदू मुस्लिम मुद्दे पर बहस। (image source-Express photo)

लखनऊ में एक लड़की के ट्वीट से हिंदू-मुस्लिम के मुद्दे पर जबरदस्त बहस छिड़ गई, बात यहां तक पहुंची कि एयरटेल को इस मुद्दे पर अपनी सफाई पेश करनी पड़ी। दरअसल लखनऊ की एक मैनेजमेंट प्रोफेशनल ने सोमवार को एक मुस्लिम एयरटेल टेक्नीकल रिप्रजेंटेटिव की सेवाएं लेने से सिर्फ इसलिए इंकार कर दिया, क्योंकि वह एक मुस्लिम था। देखते ही देखते यह मुद्दा सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। खबर के अनुसार, लखनऊ की पूजा सिंह नाम की एक युवती ने एयरटेल डिश नेटवर्क को कनेक्शन से संबंधित एक समस्या के लिए सोमवार दोपहर करीब 3 बजे एयरटेल कस्टमर केयर फोन किया। इस पर नेटवर्क ऑपरेटर एक्जीक्यूटिव शोएब ने पूजा सिंह को असिस्ट किया।

इस पर पूजा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि डियर शोएब, क्योंकि आप एक मुस्लिम हो और मेरी आपकी कार्यशैली में कोई आस्था नहीं है….इसलिए आपसे निवेदन है कि किसी हिंदू रिप्रजेंटेटिव को मुझे असिस्ट करने को कहें। शुरुआत में एयरटेल ने पूजा सिंह के निवेदन पर एक सिख रिप्रजेंटेटिव गगनजोत यह काम सौंप दिया गया। हालांकि पूजा के इस कमेंट पर ट्विटर पर तीखी बहस छिड़ गई। बड़ी संख्या में लोगों ने इस कट्टरता को नकार दिया, वहीं कुछ लोग ऐसे भी थे, जो पूजा के समर्थन में आ गए।

मामला बढ़ता देख एयरटेल ने पूजा को अपना जवाब लिखा, जिसके अनुसार, “एयरटेल अपने ग्राहकों, कर्मचारियों और साझेदारों के बीच जाति और धर्म के आधार पर भेद नहीं करता है। हमारी विनती है कि आप भी ऐसा कोई भेद ना करें। शोएब और गगनजोत हमारी कस्टमर केयर टीम के सदस्य हैं। यदि कोई कस्टमर हमसे संपर्क करता है तो जो भी रिप्रजेंटेटिव पहले मौजूद होगा, वहीं ग्राहकों को असिस्ट करेगा। आपकी समस्या को लेकर हम जल्द ही किसी अपडेट के साथ आपसे संपर्क करेंगे।” वहीं सोशल मीडिया पर कई लोगों ने पूजा की कट्टरवादी सोच के लिए उन्हें जमकर लताड़ा। बता दें कि पूजा को पूर्व कांग्रेसी नेता शहजाद जय हिंद, भाजपा एमपी उदित राज, और शिरोमणि अकाली दल के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा जैसे लोग फॉलो करते हैं। बता दें कि ऐसा ही एक मामला बीते अप्रैल माह में भी मीडिया की सुर्खियां बना था, जब एक विहिप नेता ने ओला कैब में एक मुस्लिम ड्राइवर के साथ जाने से इंकार कर दिया था। इस मुद्दे पर भी काफी हंगामा हुआ था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App