ताज़ा खबर
 

भारत बचाओ यात्रा में फिसल गई नेता की जुबान, बोले- कृष्‍ण ने की थी द्रौपदी के चीरहरण में मदद

राजस्थान के भीलवाड़ा में एक नेता का भाषण सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। यहां 'भारत बचाओ महारथ यात्रा' के दौरान जनसभा का आयोजन किया गया था।

राजस्थान के भीलवाड़ा में ‘भारत बचाओ महारथ यात्रा’ के दौरान जनसभा का आयोजन किया गया था।(फोटो सोर्स- ट्विटर)

राजस्थान के भीलवाड़ा में एक नेता का भाषण सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। यहां ‘भारत बचाओ महारथ यात्रा’ के दौरान जनसभा का आयोजन किया गया था। इस सभा में एक नेता अपने विचार रखने के लिए मंच पर पहुंचे थे। नेता ने अपने भाषण में कश्मीर में हिंदू लोगों के रहने से लेकर हिंदुत्व और संस्कृति जैसे मुद्दे बार बात की। इसी भाषण के दौरान नेता ने कृष्ण भगवान को द्रौपदी के चीरहरण में मदद करने वाला बता दिया।

दरअसल, जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग को लेकर शुरू हुई भारत बचाओ महा रथयात्रा राजस्थान के भीलवाड़ा के सर्किट हाउस पहुंची थी। वहां हिंदू संगठनों ने इस यात्रा का स्‍वागत किया। इस मौके पर जनसभा का आयोजन किया गया था। इस जनसभा में नेताओं को सुनने के लिए आम लोगों की काफी भीड़ जमा हुई थी। सभी नेताओं के भाषण को सुन रहे थे, जिसमें वक्ताओं ने जनसंख्‍या वृद्धि के भयावह परिणामों के मुद्दे पर भी बात की।

HOT DEALS
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Gunmetal Grey
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹900 Cashback
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Champagne Gold
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹900 Cashback

इसी बीच, एक नेता ने अपने आप को फौजी तक बता दिया। इसके अलावा, हिंदुत्व और हिंदू संस्कृति के विषय पर अपने विचार रखे। वहीं, अपने भाषण के बीच में नेता ने भगवान श्रीकृष्ण और द्रौपदी के चीरहरण पर ऐसी बात कही जिसे सुन हर कोई हैरान हो गया। नेता ने भाषण के दौरान कहा कि श्रीकृष्ण ने द्रौपदी के चीरहरण में अप्रत्यक्ष रूप से मदद की। नेता का यह भाषण सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। बता दें कि भारत बचाओ महारथ यात्रा का उद्देश्य देश की बढ़ती जनसंख्या पर विराम लगने के लिए कानून का निर्माण करना बताया जा रहा है। यह यात्रा कश्मीर से शुरू होकर कन्याकुमारी तक की 20 हजार किमी की दूरी 70 दिनों में तय करेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App