कुमार विश्‍वास ने लिखा ऐसा शेर कि पढ़कर लोगों ने कहा- दिक्‍कत है तो डॉक्‍टर को दिखा लो - Kumar Vishwas write sher on his twitter account with a photograph twitterati said if you have problem then u need a doctor - Jansatta
ताज़ा खबर
 

कुमार विश्‍वास ने लिखा ऐसा शेर कि पढ़कर लोगों ने कहा- दिक्‍कत है तो डॉक्‍टर को दिखा लो

कुमार विश्वास के इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लोग उनका काफी मजाक उड़ा रहे हैं। एक ट्विटर यूजर ने कुमार विश्वास के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, "आप अपना समुचित इलाज कराएं।" एक ने लिखा, "डॉक्टर को दिखाओ।"

Author नई दिल्ली | March 15, 2018 8:54 PM
आम आदमी पार्टी नेता कुमार विश्वास (फोटो सोर्स- एक्सप्रेस फोटो/गजेंद्र यादव)

अपनी कविताओं से सभी का दिल खुश करने वाले डॉक्टर कुमार विश्वास सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं। आए दिन वे ट्विटर पर अपनी कविताओं और शेरों से अपने प्रशंसकों को खुश करते रहते हैं। हाल ही में कुमार विश्वास ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक शेर लिखा है, जिसे पढ़कर लोग उन्हें डॉक्टर के पास जाने की सलाह दे रहे हैं। कुमार विश्वास ने लिखा, “दर्द होता है बैठ जाता हूं, बैठता हूं तो दर्द होता है।” कुमार विश्वास द्वारा ट्वीट किया गया यह शेर पाकिस्तान के जाने-माने लेखक, स्कॉलर और फिलॉसफर जॉन एलिया का है।

कुमार विश्वास के इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लोग उनका काफी मजाक उड़ा रहे हैं। एक ट्विटर यूजर ने कुमार विश्वास के ट्वीट पर  प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, “आप अपना समुचित इलाज कराएं।” एक ने लिखा, “डॉक्टर को दिखाओ।” एक ने लिखा, “किसके द्वारा कहां पर बिठाया जा रहा है मासूम कविराज को।” एक ने लिखा, “चेकअप करवाओ, पाइल्स हो सकता है।” एक ने लिखा, “लखनऊ की रूमानी धरती पर कविवर किस दर्दे दास्तां की बात कर रहे हैं, कहीं ‘दिल’ दिल्ली में तो नहीं और ‘रूह’ लखनऊ में तो नहीं।” एक ने लिखा, “पाइल्स की बीमारी तो नहीं है सर।”

आपको बता दें कि हाल ही में कुमार विश्वास ने उनकी कविताओं के साथ छेड़छाड़ करने वालों को इशारों ही इशारों में जमकर लताड़ लगाई थी। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, “कुछ बच्चों ने मेरी प्रसिद्ध कविता के प्रति समर्पित अश्लील रचनात्मक क्रिया की है। इन फर्जी हैंडल्स के महाफर्जी मालिक को तो आप पहचान ही गए होंगे! ‘इतने सारे दास तुम्हारे, सिर्फ हमारा किस्सा गाएं? एक जख्म पर इतने मरहम? घाव पुराने खुल ना जाएं’।” यह गुस्सा कुमार विश्वास ने उस ट्वीट के बाद दिखाया था, जिसमें उन्हें एक किताब के साथ दिखाया गया था और उस पर दिए गए शीर्षक में आपत्तिजनक बातें लिखी गई थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App