ताज़ा खबर
 

खुली बांह की फोटोज शेयर कर रहीं महिलाएं, इस वजह से वायरल हो रहा ट्रेंड

पैटरिसिया कारवेलस ने ट्विटर पर इन कपड़ों में सबसे पहले अपनी तस्वीर शेयर की और यह कहानी बताई। एबीसी न्यूज से बातचीत करते हुए कारवेलस ने कहा कि वहां एक अटेन्डेंट ने आकर उनसे कहा कि उनके 'कपड़ों से कंधे काफी नजर आ रहे हैं, इसलिए उन्हें इन्हें और भी ज्यादा ढकने की जरुरत है।'

कई महिलाओं ने अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है। फोटो सोर्स – ट्विटर, @AirlieWalsh

पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर कई महिलाओं ने अपनी खुली बांह की तस्वीरें शेयर कर रही हैं। यह तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही हैं। कई महिलाएं हाफ टी-शर्ट या फिर शूट में अपनी तस्वीरें शेयर कर रही हैं। हम आपको बताते हैं कि खुली बांहों वाली महिलाओं की इन तस्वीरों के पीछे आखिर राज क्या है? आखिर क्यों महिलाएं ऑस्ट्रेलिया में सोशल मीडिया पर अपनी ऐसी तस्वीरें एक के बाद एक धडा़धड़ शेयर कर रही हैं। दरअसल ऑस्ट्रेलिया के संसद से एक पत्रकार को सिर्फ इसलिए बाहर कर दिया गया क्योंकि उन्होंने एक शॉर्ट सिलिव्ड पैंटशूट पहना था। इस लिबास में उनकी बाहें नजर आ रही थीं। एबीसी रेडियो की पत्रकार पैटरिसिया कारवेलस को संसद के प्रेस गैलेरी में चल रहे प्रश्न काल से बाहर कर दिया गया क्योंकि इस लिबास में उनके कंधे नजर आ रहे थे।

पैटरिसिया कारवेलस ने ट्विटर पर इन कपड़ों में सबसे पहले अपनी तस्वीर शेयर की और यह कहानी बताई। एबीसी न्यूज से बातचीत करते हुए कारवेलस ने कहा कि वहां एक अटेन्डेंट ने आकर उनसे कहा कि उनके ‘कपड़ों से कंधे काफी नजर आ रहे हैं, इसलिए उन्हें इन्हें और भी ज्यादा ढकने की जरुरत है।’ इसलिए मुझे वहां से जाने के लिए कहा गया और मुझे प्रश्न काल के दौरान बाहर जाना पड़ा।

ऑस्ट्रेलियन पत्रकार पैटरिसिया कारवेलस ने जैसे ही सोशल मीडिया पर अपनी कहानी बयां की कई महिलाओं ने उनके समर्थन में अपनी तस्वीरें डालीं।

इसपर पार्लियामेंट ऑफ ऑस्ट्रेलिया ने अपने वेबसाइट पर कहा कि ड्रेस का स्टैंडर्ड अपने-अपने जजमेंट का तरीका है।  ट्राउजर, जैकेट, और टाई यहां महिलाओं का लिबास होना चाहिए। आपको यह भी बता दें कि ऑस्ट्रेलिया में इस मामले को लेकर विवाद भी शुरू हो गया है। संसद में विपक्षी नेताओं ने इस मामले की जाचं की माग की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App