ताज़ा खबर
 

फेसबुक पर ‘सैनिटरी पैड’ शब्‍द लिखने पर ट्रोल हुआ कश्‍मीरी कारोबारी: पड़ी बहन की गाली, एक ने कहा- शर्म-ओ-हया की सीमा लांघ दी तुमने

जाविद पारसा को इस पोस्ट के बाद सोशल मीडिया पर काफी ट्रॉल किया गया है।

27 वर्षीय जाविद पारसा फूड आउटलेट चलाते हैं। ( Photo Source: FacebooK)

माजिद हैदरी

फेसबुक पर ‘सैनिटरी पैड’ से संबंधित पोस्ट लिखने पर एक कश्मीर कारोबारी को ट्रोल किया गया है। 27 वर्षीय जाविद पारसा श्रीनगर के एक मॉल में काठी जंक्शन के नाम से फूड आउटलेट चलाते हैं। एक दिन उनके फूड आउटलेट पर कोई सैनिटरी पैड का एक पैकेट भूल गया था, जिसकी कीमत करीब 1000 रुपए थी। इसके बाद पारसा ने फेसबुक पर लिखा था, ‘कोई अपने सैनिटरी पैड का पैकेट काठी जंक्शन पर छोड़कर चला गया है, जिसका भी है वह कल किसी भी टाइम आकर मेरे ऑफिस से इसे ले जा सकता है।’ इसके बाद जिसका यह पैकेट था, उसने पारसा को शुक्रिया कहा। लेकिन उसके बाद से उनकी पोस्ट पर गाली वाले कमेंट आने शुरू हो गए।

उनकी पोस्ट पर एक कमेंट आया, ‘यह तुम्हारी बहन भूल गई होगी।’ इस पर पारसा ने कमेंट किया, ‘नहीं, मेरी बहन आज यहां आई ही नहीं।’ लेकिन यह सिलसिला यहीं नहीं रुका।उसके बाद पारसा को ट्रोल किया गया। कईयों ने लिखा, आपने पूरे कश्मीर को बदनाम कर दिया तो वहीं कईयों ने कहा कि आपने शर्म-ओ-हया की सीमा लांघ दी है। इसके बाद पारसा ने #SanitaryPads हैशटेग के साथ लोगों के कमेंट का जवाब देना शुरु कर दिया।

HOT DEALS
  • Apple iPhone SE 32 GB Gold
    ₹ 19959 MRP ₹ 26000 -23%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone 7 128 GB Jet Black
    ₹ 52190 MRP ₹ 65200 -20%
    ₹1000 Cashback

हालांकि, वहीं कुछ महिलाएं पारसा के समर्थन में उतर आईं। कश्मीर चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की एग्जीक्यूटिव मेंबर गजला आमिन ने पारसा का समर्थन किया और उनके इस कदम की सार्वजनिक तौर पर तारीफ की। एक अन्य महिला पमेला धार आनंद ने लिखा, ‘जाविद जितना मैं आपको जानती हूं उसके मुताबिक सोचती थी कि आपमें एंटरप्राइजिंग की अच्छी स्कीलस हैं और आप अच्छे इंसान हैं। लेकिन आपकी यह पोस्ट पढ़कर मेरे दिल में आपके प्रति इज्जत और ज्यादा बढ़ गई। आप जैसे समाज में कुछ ही लोग हैं। आपको इस टैबू को तोड़ने के लिए बधाई। वहीं कुछ ऐसी महिलाएं भी है, जिन्होंने पारसा पर निशाना साधा है। आरिफ बेगम ने लिखा है, ‘दूसरों को भूल जाईए कश्मीर में कुछ पत्रकार हैं, जो कि अंडरवीयर पर भी स्टोरी कर लेंगे। हम लोग सोशल मीडिया की रेस में अपने मुल्यों को खो रहे हैं।’

इस ट्रोल से पारसा दुखी हैं। इंडियन एक्सप्रेस ग्रुप की वेबसाइट इनयूथ.कॉम से बात करते हुए पारसा ने बताया, ‘जरूरत की चीजों को लेकर अनैतिक मिथ्यों की वजह से कश्मीर के बारे में एक नकारात्मक संदेश जाता है। मैं ज्यादातर समय दूसरे शहरों जैसे हैदराबाद में रहा हूं, लोग वहां पर कश्मीर में ऐसी फालतू की बहस के लिए मजाक बनाते हैं। और सैनिटरी पैड के के बारे में लिखना क्या अनैतिक है? हमारी मां, बहनों और बेटियों की जरूरत की चीजों को लेकर टैबू क्यों बनाए हुए हैं?’

कश्मीर में जब इस मुद्दे को लेकर सोशल मीडिया पर बहस चल रही थी, तभी पारसा ने ट्रोल्स को करारा जवाब दिया। उन्होंने लिखा, ‘अब आगे से काठी जंक्शन पर आप अपने अंडरगारमेंट्स छोड़कर चले जाएंगे तो मैं इन्हें फेसबुक पर पोस्ट किए बिना पहन लूंगा। मेरे इस कदम को अनैतिक मत बोलना और मेरी ईमानदारी पर कोई सवाल नहीं उठाएगा।

वीडियो- रणवीर सिंह शाहिद कपूर की पार्टी में ऐसी ड्रेस में पहुंचे; लोगों ने कंडोम से तुलना कर उड़ाया मजाक

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App