Kasganj violence: SP Leader Abu Azmi said that there is no need of tiranga Yatra from Muslim Area - कासगंज हिंसा: लाइव शो में बोले सपा नेता अबू आज़मी- मुस्लिम इलाके में तिरंगा यात्रा लेकर क्यों गए? - Jansatta
ताज़ा खबर
 

कासगंज हिंसा: लाइव शो में बोले सपा नेता अबू आज़मी- मुस्लिम इलाके में तिरंगा यात्रा लेकर क्यों गए?

शो के एंकर ने सपा नेता से पूछा कि आखिर समाजवादी पार्टी के पास ऐसी कौन सी जांच एजेंसी है जिसके चलते आप लोग कह रहे हैं कि कासगंज में चंदन की हत्या किसी गैर मुस्लिम ने की है।

गणतंत्र दिवस के दिन कासगंज में हुई सांप्रदायिक हिंसा के दौरान बस जलाई गई थी। (फाइल फोटो- PTI)

उत्तर प्रदेश के कासगंज में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर तिरंगा यात्रा के दौरान चंदन गुप्ता नाम के एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस मौत के बाद कासगंज में हिंसा भड़क उठी। फिलहाल सुरक्षा बलों की तैनाती से माहौल सामान्य होने की ओर है वहीं इस हिंसा पर राजनीति खत्म नहीं हो रही। इस हिंसा पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर बदस्तूर जारी है। जहां कुछ दक्षिणपंथी संगठन ये कह रहे हैं कि तिरंगा यात्रा करने पर एक युवक को मुसलमानों द्वारा गोली मार दी गई वहीं सपा नेता अबू आसिम आजमी का कहना है कि चंदन को गोली मुसलमानों ने नहीं हिंदुओं ने मारी। अपने इस बयान के पीछे आजमी ने तमाम तर्क भी सामने रखे। दरअसल हिंदी समाचार चैनल न्यूज़ 18 पर कासगंज हिंसा पर डिबेट का लाइव शो रखा गया था। इस डिबेट का टॉपिक था- कासगंज तो शांत पर सियासत जारी। इस डिबेट में तमाम मेहमानों के साथ ही समाजवादी पार्टी के महाराष्ट्र अध्यक्ष व विधायक अबू आजमी भी मौजूद थे।

डिबेट में शो के एंकर ने सपा नेता से पूछा कि आखिर समाजवादी पार्टी के पास ऐसी कौन सी जांच एजेंसी है जिसके चलते आप लोग कह रहे हैं कि कासगंज में चंदन की हत्या किसी गैर मुस्लिम ने की है। एंकर ने ये भी कहा कि आप लोग प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष तौर पर ये कह रहे हैं कि ये हत्या किसी हिंदू ने की है। इस सवाल पर आजमी ने कहा कि, ‘तिरंगा यात्रा में लड़के भगवा झंडा लेकर और सिर पर भगवा कपड़े बांध मुस्लिम इलाके में आए और कहने लगे कि हिंदुस्तान में रहना होगा तो वंदेमातरम कहना होगा। जिन लोगों ने हाथ में भगवा जंडा और सिर पर भगवा बांधा होगा उन्हीं लोगों ने ये काम किया होगा।’

एंकर ने सपा नेता को काउंटर करते हुए पिर से सवाल किया कि तो क्या इस देश में जिसके सिर पर भगवा कपड़ा बंधा होगा उसे गोली मार दिया जाएगा क्या? इस सवाल पर सपा नेता बोलने लगे कि, ‘तो क्या जरूरत थी मुस्लिम इलाके से तिरंगा यात्रा निकालने की? क्या यहां के मुसलमान पाकिस्तानी हैं क्या?’ देखिए इस बहस का वीडियो:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App