ताज़ा खबर
 

जहां गए थे अरविंद केजरीवाल, वहीं प्राकृतिक इलाज करा रहे हार्दिक पटेल, सामने आईं तस्‍वीरें

25 वर्षीय पाटीदार नेता यहां 17 सितंबर को भर्ती हुए थे। अनशन के दौरान उनकी सेहत में काफी गिरावट आ गई थी। यही नहीं, उनका तकरीबन 20 किलो कम हो गया था।

Author September 20, 2018 4:26 PM
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भी बेंगलुरू स्थित इस केंद्र पर इलाज के लिए आए थे। (एक्सप्रेस फोटो/टि्वटर)

पाटीदारों के लिए लंबे वक्त से आरक्षण की मांग कर रहे और पाटीदार अनमत आंदोलन समिति के नेता हार्दिक पटेल इन दिनों प्राकृतिक इलाज करा रहे हैं। सेहत दुरुस्त करने वह उसी जगह पहुंचे, जहां कभी आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जाया करते थे। प्राकृतिक इलाज कराते और सैर करते हुए हार्दिक की कुछ तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया के जरिए सामने आए हैं।

पाटीदार नेता के करीबी माने जाने वाले निखिल सवानी ने इस बारे में बताया, “भूख हड़ताल के बाद हार्दिक इन दिनों कर्नाटक के बेंगलुरू शहर में हैं। जिंदल नेचरक्योर इंस्टीट्यूट में उनका इलाज चल रहा है। वह यहां 28 सितंबर तक प्राकृतिक इलाज कराएंगे।”

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 25 वर्षीय हार्दिक पटेल यहां 17 सितंबर को भर्ती हुए थे। अनशन के दौरान उनकी सेहत में काफी गिरावट आ गई थी। यही नहीं, उनका तकरीबन 20 किलो कम हो गया था। यही कारण था कि उन्होंने बेंगलुरू स्थित इस केंद्र का रुख किया।

आपको बता दें कि पाटीदार समुदाय को आरक्षण और किसानों की कर्जमाफी के मसले पर वह अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे थे। वह 19 दिनों तक बगैर कुछ खाए-पिए रहे थे। 12 सितंबर को उनके समर्थकों ने नारियल पानी पिलाकर उनकी हड़ताल तुड़वाई थी।

इन दिनों खुद को चुस्त-दुरुस्त रखने के लिए वॉक पर निकलते हैं हार्दिक पटेल, देखें VIDEO-

रोचक बात है कि हार्दिक से पहले इस जगह पर केजरीवाल भी अपना इलाज करा चुके हैं। साल 2015 और 2016 में उनको खांसी और जुखाम की शिकायत आई थी। वह तब क्रमशः 12 और 10 दिनों की छुट्टी लेकर यहां आए थे। फिर 2017 में भी 16 दिन का उनका यहां का चक्कर लगा था। वहीं, इस साल जून में भी आप नेता ने इलाज के लिए बेंगलुरू का रुख किया था। कारण- उपराज्यपाल के दफ्तर में नौ दिनों तक धरने के बाद उनके स्वास्थ्य में भारी गिरावट आई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App