ताज़ा खबर
 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसने के चक्‍कर में ये गलती कर गए कन्‍हैया कुमार

पीएम बनने के बाद नरेंद्र मोदी की शैक्षणिक योग्यता चर्चा का विषय बन गई थी। कई विपक्षी पार्टियों ने मोदी से अपने शैक्षणिक कागजात सार्वजनिक करने को कहा था। मोदी की शैक्षणिक योग्यता जानने के लिए दिल्ली और गुजरात विश्वविद्यालय में कई आरटीआई भी फाइल की गई थीं।

Kanhaiya, Kanhaiya Kumar, JNU, JNU hunger strike, JNU strike, hunger strike JNU, JNU Kanhaiya, Kanhaiya hunger strike, JNU news, India newsजेएनयू के छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार (File Photo)

कन्हैया कुमार पर काफी समय से आरोप लगाए जा रहे हैं कि वे अभी भी जवाहर लाल यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहे हैं। इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में इन आरोपों का जवाब देते हुए कन्हैया कुमार ने कहा कि वे कम से कम 30 साल की उम्र में पीएचडी कर रहे हैं लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी एमए 35 वर्ष की आयु में पूरी की थी। मुंबई में आयोजित इस कार्यक्रम में राहुल कंवल के सवाल का जवाब देते हुए कन्हैया कुमार ने इतनी बड़ी गलती कर दी कि वे भूल गए कि प्रधानमंत्री ने 35 की उम्र में नहीं बल्कि 32 की उम्र में अपनी एमए की डिग्री प्राप्त की थी।

आपको बता दें कि कन्हैया इस कार्यक्रम में ‘यंग तुर्क’ पैनल का हिस्सा थे। इस पैनल में उनके साथ पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, भारतीय जनता युवा मोर्चा के रोहित चहल, स्तंभकार शुभराष्ट्रा और कन्हैया की जेएनयू साथी शेहला राशिद भी शामिल थीं। जेएनयू के छात्र नेता कन्हैया कुमार और शेहला राशिद लगातार बीजेपी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार का विरोध करते रहे हैं। वहीं कन्हैया कुमार और शेहला राशिद पर अक्सर आरोप लगे हैं कि वे जेएनयू में टैक्स पेयर के पैसों से पढ़ाई कर रहे हैं।

आपको बता दें कि पीएम बनने के बाद नरेंद्र मोदी की शैक्षणिक योग्यता विवादों के घेरे में आ गई थी। कई विपक्षी पार्टियों ने मोदी से अपने शैक्षणिक कागजात सार्वजनिक करने को कहा था। मोदी की शैक्षणिक योग्यता जानने के लिए दिल्ली और गुजरात विश्वविद्यालय में कई आरटीआई भी फाइल की गई थीं। साल 2016 में सेंट्रल इन्फोर्मेशन कमीश्नर ने गुजरात और दिल्ली विश्वविद्यालय को नोटिस भेज मोदी की डिग्री की डिटेल देने के लिए कहा था। गुजरात विश्वविद्यालय ने पीएम मोदी की मार्कशीट जारी की थी जिसमें यह दिखाया गया था कि पीएम ने 1983 में पॉलिटिक्ल साइंस में 62.3 प्रतिशत अंक प्राप्त किए थे और उस समय उनकी आयु 32 थी न कि 35 जैसा कि कन्हैया कुमार ने इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में दावा किया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 थाने के भीतर बीजेपी कार्यकर्ताओं को कराया गया भरपेट नाश्‍ता, वीडियो शेयर कर कांग्रेस ने बोला हमला
2 बार एसोसिएशन ने राज्‍य भर के वकीलों को सेंड कर दी टॉपलेस महिला की तस्‍वीर, जानिए फिर क्‍या हुआ
3 VIDEO: ‘गेम ऑफ थ्रोन्स’ एक्टर ने उठाया 472 किलो, दूसरे ने की कोशिश तो नाक-मुंह से निकला खून
ये पढ़ा क्या?
X