scorecardresearch

प्रयागराज में जुमे की नमाज के बाद पत्थरबाजी-हंगामा, राइफल दिखा बोले पुलिस अफसर- पीछे हट जाइये नहीं तो…

प्रयागराज की हालत को काबू करने के लिए अतिरिक्त पुलिस फोर्स भेजी जा रही है।

प्रयागराज में जुमे की नमाज के बाद पत्थरबाजी-हंगामा, राइफल दिखा बोले पुलिस अफसर- पीछे हट जाइये नहीं तो…
वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। (Photo Source – Social Media)

भारतीय जनता पार्टी से निष्कासित की गई नुपूर शर्मा (Nupur Sharma) द्वारा एक टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद को लेकर कथित तौर पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को पूरे देश के कई शहरों में जुमे की नमाज के बाद मस्जिदों के बाहर प्रदर्शन किया गया। प्रयागराज के खुल्दाबाद थाना क्षेत्र के अटाला इलाके में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने जुमे की नमाज के बाद पथराव शुरू कर दिया। मामले को बढ़ता देख पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में बंदूक तान दी।

दरअसल, प्रयागराज में जुमे की नमाज के बाद मुस्लिम समुदाय के लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया, जिससे अफरातफरी बढ़ गई। इसी बीच पुलिस ने लोगों को समझाने का भी प्रयास किया। वहां पर नाराज लोगों ने समझने के बजाय पुलिस के साथ झड़प भी की। जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई कर लोगों को खदेड़ा। इसी दौरान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

जिसमें एक पुलिस वाला प्रदर्शनकारियों पर बंदूक तानकर कह रहा है, ‘ पीछे चले जाओ नहीं तो…।’ जिसके बाद पीछे खड़े सभी सुरक्षा बल भी यह बात दोहराने लगते हैं कि आप लोग पीछे चले जाइए। जानकारी के लिए बता दें कि प्रदर्शनकारियों ने एडीजी की गाड़ी पर भी पत्थरबाजी की है। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी आंसू गैस के गोले छोड़े हैं। गौरतलब है कि प्रयागराज के हालात को काबू करने के लिए अतिरिक्त पुलिस फोर्स भेजी जा रही है। डीजीपी डीएस चौहान, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार और अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी लखनऊ पुलिस हेड क्वार्टर कंट्रोल रूम में मौजूद हैं।

देवबंद में भी हुआ प्रदर्शन : यूपी के देवबंद में भी जुमे की नमाज के बाद अचानक कुछ लोग सड़कों पर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन करने लगे।जिसके बाद पुलिस के समझाने बुझाने पर न मानने के चलते पुलिस द्वारा लाठीचार्ज भी किया गया। जानकारी के मुताबिक माहौल बिगाड़ने को लेकर 6 से 7 पद राज्यों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया है।

एसपी देहात सूरज राय ने बताया कि सभी को संवैधानिक रूप से प्रदर्शन कर अपनी बात कहने का अधिकार है। जो असामाजिक तत्व माहौल को बिगाड़ने की कोशिश करेंगे, उनसे सख्ती से निपटा जाएगा। एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि सहारनपुर में जुमे की नमाज के बाद काफी संख्या में लोग एकत्रित हुए थे, लेकिन कुछ देर बाद सभी वापस अपने गंतव्य को चले गए थे। उन्होंने बताया कि प्रदेश भर में संवेदनशील इलाकों में पुलिस जगह-जगह लगातार भ्रमण कर रही है।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 10-06-2022 at 04:12:59 pm
अपडेट