घायल हुईं जसोदाबेन: सागरिका घोष ने पूछा- क्‍या उनके पति मिलने जाएंगे? लोगों ने यूं लगाई क्‍लास - journalist sagarika ghose tweet about prime minister narendra modi wife ask will her husband at least visit her - Jansatta
ताज़ा खबर
 

घायल हुईं जसोदाबेन: सागरिका घोष ने पूछा- क्‍या उनके पति मिलने जाएंगे? लोगों ने यूं लगाई क्‍लास

दरअसल पीएम मोदी की पत्नी जसोदाबेन बुधवार को एक सड़क दुर्घटना का शिकार हो गईं। रिपोर्ट के अनुसार तब वह राजस्थान के कोटा में आयोजित एक शादी में शामिल होने के बाद वापस गुजरात लौट रही थीं। हादसा चित्तौड़गढ़ के नजदीक पारसौली थाना इलाके में काटूंदा के निकट हुआ।

वरिष्‍ठ टीवी पत्रकार सागरिका घोष। (Photo: Twitter)

मशहूर पत्रकार सागरिका घोष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जसोदाबेन के एक्सीडेंट के बाद कथित तौर पर तंज कसते हुए उनसे सवाल किया है। बुधवार (7 फरवरी, 2018) को ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘क्या उनके पति (पीए मोदी) मिलने जाएंगे? या हमें पूछने की अनुमति नहीं है?’ पत्रकार ने ट्वीट ऐसे समय में किया है जब पीएम मोदी की पत्नी जसोदाबेन बुधवार को एक सड़क दुर्घटना का शिकार हो गईं। रिपोर्ट के अनुसार तब वह राजस्थान के कोटा में आयोजित एक शादी में शामिल होने के बाद वापस गुजरात लौट रही थीं। हादसा चित्तौड़गढ़ के नजदीक पारसौली थाना इलाके में काटूंदा के निकट हुआ। दुर्घटना के तुरंत बाद उन्हें नजदीकी अस्पताल ले जाया गया। हादसे में उनके एक रिश्तेदार वसंतभाई मोदी की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि घायलों में नरेंद्र मोदी के चचेरे भाई और भाभी भी शामिल हैं। जसोदाबेन को भी हल्की चोटें आईं। दुर्घटना चित्तौड़गढ़-कोटा फोरलेन पर हुई।

वहीं पत्रकार के इस ट्वीट के बाद वह सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गई हैं। कई यूजर्स ने उनके खिलाफ तंज भरे कमेंट किए हैं। फर्जी पत्रकार लिखते हैं, ‘मेरे मोहल्ले की आंटी का चक्कर बाजू वाले अंकल से। मेहरबानी कर इसपर एक लेख लिखें।’ कूल और फनी लिखते हैं, ‘आज मेरे घर भिंडी की सब्जी बनेगी। उसपर भी एक कॉलम लिख लो।’ हिरन जोशी लिखते हैं, ‘पत्रकारिता का सबसे निचला स्तर।’ एक कमेंट में लिखा गया, ‘यह पत्रकारिता नहीं है।’

रवींद्र कुमार लिखते हैं, ‘क्या उन्होंने इटेलियन मैडम से उनके पति का ख्याल रखने के बारे में पूछा?’ राजेंद्र मित्तल लिखते हैं, ‘नेहरू तो अपनी बीमार पत्नी को मिलने भी कहां गए थे ना ही उन्हें कंधा दिया। एक ट्वीट इसपर भी कर दो।’ राहुल भंडारी लिखते हैं, ‘उस इंसान को गिराने के चक्कर में खुद के पद की प्रतिष्ठा को शीर्ण कर रही हैं… ऐसे समय मे तो दुश्मन भी दोस्त बन जाता है… आप तो फिर भी मीडिया ( विपक्ष भी कह सकते है) से हैं।’

देखें ट्वीट्स-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App