ताज़ा खबर
 

CM योगी आदित्य नाथ पर भड़का न्यूज़ एंकर, कहा- आप जैसों को पालना देश का दुर्भाग्य, शर्म मगर तुम्हें आती नहीं

'जनता को हिन्दू-मुसलमान के नाम पर दो फाड़ कर ही चुके हो , काम करो न करो, क्या फ़र्क़ पड़ता है।'
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ।(फोटो: PTI)

मशहूर पत्रकार और न्यूज़ एंकर ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर जमकर अपना क्रोध निकाला है। एबीपी न्यूज़ के एंकर अभिसार शर्मा ने सीएम योगी के बारे में कहा है कि ये देश का दुर्भागय ही है कि वो आप जैसे नेताओं को पिछले 70 सालों से पाल रही है। अभिसार शर्मा ने फेसबुक पर लाइव वीडियो बनाकर योगी आदित्यनाथ पर हमला बोला है। अभिसार शर्मा के इस लाइव वीडियो को लोग खूब पसंद कर रहे हैं। देखते ही देखते ये वीडियो वायरल हो चुका है। इस वीडियो को महज 4 घंटों के अंदर ही ढाई हजार से ज्यादा लोग शेयर कर चुके हैं। इस वीडियो में योगी आदित्य नाथ के उस बयान को लेकर हमला बोला गया है जिसमें उन्होंने कहा था कि ‘मुझे लगता है कहीं ऐसा न हो कि लोग अपने बच्चे 2 साल के होते ही सरकार के भरोसे छोड़ दें, सरकार उनका पालन पोषण करे।’

इस लाइव वीडियो में अभिसार शर्मा कह रहे हैं कि- ‘गौर कीजिये क्या कहा था योगीजी ने, उनके इस कथन के हकीकत में तब्दील होने की गुंजाइश उतनी ही है, जितना समूची भारतीय सियासत के संस्कारी और शरीफ हो जाने में है। यानी के जो हो नहीं सकता , उसकी बात भी क्यों की जाए ? मगर इससे आपकी नीयत का पता चलता है। आपकी संवेदनाओं का पता चलता है। बच्चों के प्रति आपकी भावनाओं का पता चलता है। आप क्या कहते हैं योगीजी? के कहीं दो साल बाद माता पिता अपने बच्चों को सरकार के हवाले न कर दें?’

‘मैं आज ईश्वर के प्रार्थना करता हूँ के सद्बुद्धि न सही , आपको इस बयान की बेरहमी समझने की समझदारी वो आपको प्रदान करें। ये बयान ये साबित करता है के बीजेपी जवाबदेही में कतई विश्वास नहीं रखती , अलबत्ता सियासी विकल्प न होने के चलते , एक दबंगई का भाव आ गया है । मोहल्ले का वह आका जो किसी को ताना कस देता है , किसी का भी ठेला उखाड़ देता है, किसी को भी छेड़ देता है। क्योंकि कोतवाल बड़े भाई जो ठहरे। बड़े भाई ! याद है न ? क्योंकि सारा ज़ोर बड़े भाई के करिश्मे पर है। जनता को हिन्दू-मुसलमान के नाम पर दो फाड़ कर ही चुके हो , काम करो न करो, क्या फ़र्क़ पड़ता है।’

‘योगीजी , सरकार बच्चों को नहीं पालेगी। मगर ये देश का दुर्भाग्य है के वो 70 सालों से आप जैसे सियासतददानों को पाल भी रही है और बर्दाश्त भी कर रही है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. N
    NILESH KUMAR
    Sep 2, 2017 at 9:07 pm
    आज जब इन एबीपी मीडिया के ऊपर ह ा हुआ तो इनको अब सब सरकार गलत नज़र आ रही है जब पत्रकार को बाबा ने मरवा दिया था तब ये महाशय जी अपने न्यूज़ में क्यों नहीं दिखाए न ही इनके काले करतूतों को बताए। देश की मीडिया खुद ही बिकाऊ है ये हमें ना सिखाए।
    (0)(1)
    Reply
    1. J
      jitendra
      Sep 2, 2017 at 11:43 am
      भाई ये र स स वालो की खिलाफ मत बोलो वार्ना ये देस द्रोही बना देंगे और मोदी के सोशल मिडिया में गली देना सुरु कर देंगे
      (1)(0)
      Reply
      1. R
        ram
        Sep 1, 2017 at 11:29 pm
        अभिसार जी आप भैंस के आगे बीन बजा रहे हैं आज के राज के बारे मैं केवल इतना कहना बहुत है की "अंधे पीस रहे हैं और खा रहे हैं " आप को यह पता लग जायेगा जब ये खाने वाले आप पर भोंकना शुरू करेंगे
        (0)(0)
        Reply
        1. शाहिद
          Sep 1, 2017 at 9:53 pm
          परिवारविहीन लोग जब सरकार चलाने लगे तो उनकी संवेदनाएं ऐसी ही प्रकट होंगी । देश का दुर्भाग्य है कि नारी सशक्तिकरण का ढ़ोल पीटने वाला खुद अपनी पत्नी से इंसाफ नहीं करता है परंतु तीन तलाक़ के मा े में मुस्लिम महिलाओं का हितैषी होने का दावा करता है । साम्प्रदायिक सोंच उभर कर सामने आ ही जाती है । बच्चों की मौत के बाद यूपी के सीएम को काम करना चाहिए बजाय इसके कि गाल बजाए । परिवार विहीन लोगों के साथ दिक्कत यही है परिवारिक संवेदनाओं का उनमें अक्सर अभाव होता है ।
          (0)(0)
          Reply
          1. D
            Devraj
            Sep 1, 2017 at 7:00 pm
            चोप्प भो श्री के
            (0)(1)
            Reply
            1. D
              Devraj
              Sep 1, 2017 at 6:58 pm
              आभिसार शर्मा लगता है तेरी मे भी सेक्यूलर कीडे ने काट खाया है
              (0)(0)
              Reply
              1. S
                Saurav verma
                Sep 1, 2017 at 2:44 pm
                बिका हुअा चैनल...मुझे नफरत तुमसे
                (0)(0)
                Reply
                1. Virendra Sason
                  Sep 1, 2017 at 2:36 pm
                  शर्म से डूब मरना चाहिए पर चाहते नहीं है ? यही देश का आदिकाल से दुर्भाग्य है या नहीं? कौन समझायेगा ?
                  (0)(0)
                  Reply
                  1. M
                    mk rajpoot
                    Sep 1, 2017 at 2:21 pm
                    तेरे कमेंट तब कहाँ थे जब कवाल का बवाल हुआ। तेरे कमेंट तब कहाँ थे जब आजम ओर ओवेसी बोलता है कि वंदे मातरम नही बोलेगें । सालो आजतक जनता को झूठ ही दिखाते आये हो पाकिस्तान चले जाओ वहाँ पर तेरी जरूरत है रही बात नोट बन्दी की वो जनता बता चुकी है रही आतंकव्वाद के बात तो जब भी कोई तुम्हारा अब्बा मारा जाता है तो तुम उसे हीरो बनाते हो। कि निर्दोष को आर्मी ने मार दिया जाता है सालो भडवो तुमने कुछ नही सीखा है ये सीखा है कि बस कि दूसरे के तलवे चाटना
                    (0)(0)
                    Reply
                    1. S
                      shishir ashok
                      Sep 1, 2017 at 3:13 pm
                      bhai rajpoot tu dusara desh babna le tere jaiso ki es desh me jarurat nahi hai. tuje logo se dikat hai na to dusara kyo jaye. bhai tune bhi to yogi ke bayan pe kuch nahi kaha , tu bhi to bachawa karane a gaya. kya tum jaise ye chahate hai ki koi kuch na bole. aur bande matram kya tu kisi ke muh me ghus ke bulayega. tu din me kitani baar bolata hai.
                      (1)(0)
                      Reply
                      1. B
                        balram
                        Sep 1, 2017 at 11:37 pm
                        aapne bahut achha likha hai baht bahut mubarak . pataa nahin is humari sarkar surgical striike kuon nahin kar rahi hai . din main kam se kam dus surgical strike hone chahhiyen Lagta hai ahmari sarkar ko koi dara raha hai. ye darna desh ke liye bahut ghatak hai, BANDE MATARAM
                        (0)(0)
                        Reply
                      2. S
                        Sanjay Payasi
                        Sep 1, 2017 at 12:50 pm
                        सत्य कडवा लगा। जरुरी है। नेहरू जी भी कुछ ऐसा कह चुके हैं। याद रखे समाज जब अपनी पूरी जिम्मेदारी त्याग कर सरकार पर निर्भर हो जायेगा तो परिणाम रूस की तरह का आयेगा।
                        (0)(0)
                        Reply
                        1. S
                          shishir ashok
                          Sep 1, 2017 at 3:20 pm
                          to bhai sarkar kya kewal cow hi palege aue yese babao aur criminal MP, MLA ko zed plus security aur pension dege. sarkar achhaye school aur hospital nahi banwyege. sarkare mandir masjid banwane ke liye ya hindu muslim karane ke liye nahi hoti hai. bhai phir to logo ko government job ke liye apply nahi karan chaiye aur suruwat aap hi karo bhai.
                          (1)(0)
                          Reply
                        2. Load More Comments