ताज़ा खबर
 

पुलिसवाले के साथ क्रिकेट खेलते कश्मीरी बच्चे की तस्वीर वायरल, टि्वटर यूजर्स जमकर कर रहे तारीफ

तस्वीर में जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक जवान कश्मीरी बच्चे साथ क्रिकेट खेलता हुआ दिखाई दे रहा है। कमाल की बात यह है जवान ने स्टंप्स की जगह अपनी ढाल का इस्तेमाल किया है और बच्चा बल्लेबाजी करता हुआ नजर आता है।

कश्मीरी बच्चे के साथ क्रिकेट खेलता पुलिसवाला। (फोटो सोर्स – BASIT ZARGAR‏ Twitter)

जम्मू कश्मीर की बारामूला पुलिस ने नौहट्टा इलाके की एक तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट की है, तेजी से वायरल हो रही है। यह तस्वीर घाटी में चल रहे तनाव से उलट संदेश दे रही है। तस्वीर को देखकर लगता है कि घाटी में किसी प्रकार की समस्या नहीं हैं और सब कुछ अमन चैन से है। तस्वीर में जम्मू-कश्मीर पुलिस का एक जवान कश्मीरी बच्चे साथ क्रिकेट खेलता हुआ दिखाई दे रहा है। कमाल की बात यह है जवान ने स्टंप्स की जगह अपनी ढाल का इस्तेमाल किया है और बच्चा बल्लेबाजी करता हुआ नजर आता है। पुलिस का जवान स्टंप के पीछ विकेट कीपर की भूमिका में है। दोनों की भाव-भंगिमाओं को देखकर लगता है वे चिंता मुक्त होकर इस खेल का जमकर लुत्फ ले रहे हैं। कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अबदुल्ला ने भी इस तस्वीर को ट्वीट किया है। उमर अबदुल्ला ने बताया कि यह तस्वीर कश्मीर आधारित फोटो पत्रकार बासित जरगार ने खींची है।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 25799 MRP ₹ 30700 -16%
    ₹3750 Cashback
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Champagne Gold
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹900 Cashback

बारामुला पुलिस के ट्वीट पर एक शख्स ने बच्चे के साथ खेलने वाले जवान का नाम वसीम बताया है। उसने लिखा कि मिस्टर वसीम एक बहादुर पुलिस अधिकारी हैं। फोटो पत्रकार बासित जरगार ने अपने ट्वीट में इस तस्वीर की लोकेशन के बारे में जिक्र किया है। बासित के मुताबिक लड़के साथ पुलिस अधिकारी श्रीनगर की जामिया मस्जिद के बाहर क्रिकेट खेल रहे थे। यह तस्वीर उस वक्त की है जब श्रीनगर के कई इलाकों में ‘गाव कादल नरसंहार’ के 28 साल पूरे होने पर सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए। गाव कादल नरसंहार 21 जनवरी 1990 को हुआ था, जिसमें कथित तौर पर करीब 50 से ज्यादा लोग मारे गए थे। इंटरनेट से प्राप्त जानकारी के अनुसार सुरक्षा बलों ने रात के वक्त तलाशी अभियान चलाया था। इस दौरान लोगों ने सुरक्षा बलों के उत्पीड़न के खिलाफ विरोध किया था, जिसमें लोगों पर गोलियां चलाई गई थीं। इस बार घाटी में इस नरसंहार की वर्षी पर किसी तरह के प्रदर्शन को रोकने के लिए सुरक्षा चाक-चौबंद की गई थी।

बता दें कि आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर बुरहान वानी को ढेर किए जाने के बाद से घाटी में तनाव काफी बढ़ गया था। करीब 2 महीने तक कर्फ्यू जैसी स्थिति रही थी। सुरक्षा बलों को पत्थरबाजों का भी खूब सामना करना पड़ा। कश्मीर के हालातों को लेकर सियासत भी खूब गरमाती रहती है, ऐसे में एक बच्चे के साथ पुलिस वाले की यह तस्वीर लोगों को बहुत सुकून भरी लग रही है। तस्वीर का सोशल मीडिया पर जमकर स्वागत हो रहा है। एक यूजर ने लिखा कि क्रिकेट बॉल फेंको, पत्थर नहीं। पुलिस ने इसे ‘श्रीनगर, नौहट्टा और प्यारी तस्वीर जैसे हैशटैग के साथ अपने आधिकारिक ट्विटर हैडल से पोस्ट किया है। यानी मतलब साफ है कि इससे प्यारी तस्वीर श्रीनगर में हो नहीं सकती है। इसी तस्वीर जैसे हालात बनाने के लिए सुरक्षा बल दिन रात घाटी में लगे हैं।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App